एम्प्लॉयीज में होना चाहिए इमोशनल इंटेलिजेंस का गुण

Sep 26 2015 01:17 PM
एम्प्लॉयीज में होना चाहिए इमोशनल इंटेलिजेंस का गुण

इमोशनल इंटेलिजेंस का होना जीवन के हर क्षेत्र में महत्वपूर्ण होता हैं.जिस भी व्यक्ति का इमोशनल इंटेलिजेंस अच्छा होता हैं वे ज़िन्दगी की किसी भी परेशानी का सामना कर सकते हैं और उनमे तनाव को झेल पाने की एबिलिटी भी होती हैं.

इमोशनल इंटेलिजेंस का अर्थ किसी की भावना को समझ कर उस तक पहुँचना और उनपर नियंत्रण कर पाना हैं.इमोशनल इंटेलिजेंस जिस व्यक्ति में अधिक होती हैं उस व्यक्ति में भावनात्मक स्थिरता भी अधिक होती हैं. कई ऑफिस में पोलिक्ट्स चलता हैं ऐसे एम्प्लोयी जो ऑफिस में पॉलिटिक्स में रत रहते हैं उनके इमोशनल इंटेलिजेंस का लेवल बेहद कम होता हैं.

जिन व्यक्तियों में इमोशनल इंटेलिजेंस की कमी होती हैं वे ईर्ष्या और गुस्से का शिकार होते हैं इस तरह यही माहोल ऑफिस और अन्य जगहों पर भी बनता हैं. कई बार ऑफिस में नियुक्ति से पहले उम्मीदवारों का इमोशनल इंटेलिजेंस का टेस्ट किया जाता हैं.अच्छी इमोशनल इंटेलिजेंस वाले लोगो में नेतृत्व की क्षमता अधिक होती हैं.

किन तरीको से आप इमोशनल इंटेलिजेंस को मैनेज कर सकते हैं:-

1) तनाव:- किसी भी व्यक्ति को जब अत्यधिक तनाव होता हैं तो उनके सोचने,समझने की शक्ति भी कही न कही आहत होती ही हैं.इसलिए जितना हो सके तनाव को दूर रखें.

2) सेंस ऑफ ह्यूमर:-किसी भी चुनौती से लड़ने की स्किल आपमें विकसित होनी चाहिए.इससे आप संतुलित बने रहते हैं.कई बार हसने हँसाने की आदते भी आपको रिलैक्स रखती हैं.