Share:
पंजाब में नशे के ओवरडोज ने ली 3 युवकों की जान
पंजाब में नशे के ओवरडोज ने ली 3 युवकों की जान

चंडीगढ़: पंजाब में नशे की ओवरडोज से तीन युवकों की जान चली गई। ये मौतें पटियाला, जालंधर और बठिंडा जिले में हुई हैं। पटियाला के समाना के नजदीकी गांव कादराबाद में नशे की ओवरडोज से 25 वर्ष के युवक की जान चली गई। पुलिस ने पिता के बयान पर कार्रवाई करते हुए शव परिजनों के हाथ दे दिया गया। युवक ने मोबाइल बेचकर नशा खरीदा था। मृतक की पहचान मोहम्मद आसिम के तौर पर की गई है। पुलिस के अनुसार युवक के पिता हीरा लाल ने बताया कि उनका बेटा नशे की लत का शिकार था। 12वीं की पढ़ाई करने के उपरांत वह विदेश जाने की तैयारी में था। हाल ही में नशा छुड़ाओ केंद्र से उसका उपचार भी कराया था। 

वहां से वापसी के उपरांत वह छिप-छिप कर नशे की गोलियों का सेवन करने लग गया था। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को नशे की लत को पूरा करने के लिए उसने अपने मोबाइल को बेच दिया और फिर मिले पैसों से नशा किया। अधिक मात्रा में नशा लेने से उसकी तबीयत ख़राब हो गई। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

बठिंडा में चिटटे से युवक की मौत: बठिंडा जिले के सदर थाना अंतर्गत बीड तलाब बस्ती नंबर दो के एक युवक की चिटटे से शनिवार के दिन जान चली गई। युवक की मौत के बाद परिजनों ने किसी के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं करवाई और कुछ वक़्त के उपरांत ही युवक का अंतिम संस्कार कर दिया। बीड तलाब के रहने वाले विजय कुमार ने कहा है कि बस्ती नंबर दो का एक युवक चिटटे का आदी था। उसने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा है कि उक्त युवक की शनिवार को चिटटे से मौत हो गई। विजय के अनुसार मृतक युवक के परिजनों ने कोई भी पुलिस कारवाई करवाने से मना कर दिया और शनिवार को ही मृतक युवक का अंतिम संस्कार कर दिया। 

जालंधर में नशे का टीका लगाने से युवक की मौत: बता दें कि उधर, जालंधर में शहीद बाबा दीप सिंह नगर में 20 वर्षीय युवक की नशे का टीका लगाने से जान चली गई। आसपास के लोगों को घर से बदबू  आने लगी। इसके उपरांत घर पर लगा ताला तोड़कर देखा तो युवक की सड़ी-गली लाश मिली। हालांकि परिजनों ने युवक के शव का बिना पोस्टमार्टम अंतिम संस्कार कर दिया है लेकिन युवक नशे का टीका लगाने का आदी था और स्थानीय आप नेता का परिवार का ही था।

इतना ही नहीं मृतक की पहचान मनु लुभाना निवासी शहीद बाबा दीप सिंह नगर के रूप में की गई है। मनु की मां अलग किराये के मकान में रहती है। कुछ वक़्त से वह अपने परिवार से अलग ही रहती है। इसी दुख के चलते मनु के पिता निर्मल सिंह की छह माह पहले मृत्यु हो गई थी। शुक्रवार को स्थानीय लोगों ने बदबू आने पर घर का ताला तोड़कर देखा तो मनु का शव पड़ा था। शव के आसपास कोल्ड ड्रिंक व जूस की खाली बोतलें पड़ी थीं।

जहाँ हुई थी 'कन्हैयालाल' की निर्मम हत्या, उस उदयपुर में 32000 वोटों से जीती भाजपा

झारखंड: रोज़गार मंत्री सत्यानंद भोक्ता के बेटे को कोर्ट में मिली नौकरी, प्रतीक्षा सूची में भतीजे का भी नाम

आंध्र प्रदेश से टकराएगा चक्रवाती तूफ़ान 'माइचांग' , पीएम मोदी ने सीएम जगन रेड्डी से की बात, दिया हर मदद का भरोसा

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -