मुगल शासक लुटेरे थे - UP उपमुख्यमंत्री
मुगल शासक लुटेरे थे - UP उपमुख्यमंत्री
Share:

लखनऊ। उत्तरप्रदेश राज्य के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने राज्य के स्कूली शिक्षा पाठ्यक्रम को लेकर चर्चा की। चर्चा के दौरान उन्होंने एक विवादित बयान दिया जिसमें उन्होंने कहा कि मुगल शासक लुटेरे थे। ऐसे में वो हमारे पूर्वज नहीं थे। उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि मुगल शासकों ने जिस तरह से बेहतर कार्य किए हैं उनकी तारीफ भी की जानी चाहिए, लेकिन जब भी इतिहास भुलाया जाता है तो विकृति भी पैदा होती है. उन्होंने यह भी कहा कि हमारी संस्कृति विध्वंसक नहीं हो सकती ऐसे में विध्वंसक बातों को संस्कृति में शामिल नहीं किया जा सकता है।

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा का कहना था कि बाबर और औरंगजेब लुटेरे थे। तो शाहजहाॅं हाथ काटने वाला था लेकिन क्या हमने बहादुर शाह जफर को इस श्रेणी में लिया? नहीं, क्योंकि 1857 की क्रांति के दौरान बहादुर शाह जफर ने क्रांतिकारियों  का साथ दिया था और मंगल पांडे को समर्थन दिया था।

हालांकि उन्होंने कहा कि यदि अकबर ने अच्छे काम किए होंगे तो इन कामों को इतिहास में स्थान दिया जाएगा। उनका कहना था कि मैं तो गुरूद्वारे भी जाता हूॅं, गिरजाघर भी जाता हूॅं साथ ही मजार में भी जाता हूॅं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी म्यांमार में बहादुर शाह जफर की मजार पर गए क्योंकि बहादुर शाह जफर अच्छे मुगल शासक थे।

योगी देंगे सांसद पद से इस्तीफ़ा

उत्तर प्रदेश के शिक्षामित्रों ने ठुकराया योगी सरकार का प्रस्‍ताव

जानिए CM योगी ने नामांकन में पिता के स्थान पर लिखा किसका नाम

भाजपा कर रही उपचुनावों की तैयारी, 4 लोकसभा सीट पर होंगे उपचुनाव

रिलेटेड टॉपिक्स