दिल्ली माल गोदाम चोरी : एक सप्ताह बाद भी नहीं खुली है पुलिस की नींद

दिल्ली : पिछले रविवार कपड़ा व्यापारी अनिल के माल गोदाम का शटर तोड़कर करीब 30 लाख के माल पर हाथ साफ कर देने के मामले में अभी पुलिस की सुस्ती जारी है और अनिल रोज अधिकारियों और पुलिस थानों के चक्कर काट रहा है. वारदात को एक सप्ताह के लगभग होने वाला है जब पिछले रविवार की सुबह करीब 4.30 से 5.30 के बीच सीसीटीवी में वारदात रिकॉर्ड हुई . जिसके बाद सारे सुबूतों के साथ अनिल ने FIR दर्ज करवाई मगर अभी तक कार्यवाई के नाम पर शून्य ही है.

मामले का दिलचस्प पहलू ये है कि पीड़ित ने इस घटना में शामिल आरोपियों और टांसपोर्ट कंपनी जिसकी गाड़ी इस घटना में प्रयोग की गई थी और आरोपियों के रहने के पते और पूरी जानकारी पुलिस को अपनी शिकायत के साथ सौंपी है. सीसीटीवी फुटेज में साफ है कि चोर जिनके चेहरे साफ नज़र आ रहे है बड़े आराम से गोदाम का शटर तोड़ते है , गोदाम के अंदर लगें सीसीटीवी में भी सब कुछ रिकॉर्ड हुआ है. पुलिस की तरफ से लापरवाही सवालों को खड़ा कर रही है.

मामले में पुलिस की मिलीभगत कि बातें भी सामने आने की खबर है . चोरी 30 लाख से ज्यादा कि है जिसे एक कांस्टेबल के भरोसे छोड़ दिया जाना संदेह पैदा कर रहा है. साक्ष्य होने पर भी पुलिस का हरकत में ना आना, चौकी इंचार्ज विनय मलिक का छुट्टी पर रहना, कई नए सवालों को जन्म दे रहा है. दिल्ली पुलिस का ये रैवैया बेहद शर्मनाक हैं, और पीड़ित अनिल फ़िलहाल कानून के दरवाजों की खाक छान रहा है. न्यूज़ ट्रैक लाइव के लिए अभिषेक दुबे के साथ दिल्ली से श्वेता रश्मि.

 

 

अवैध संपत्ति मामले में डॉक्टर दम्पति को सात साल की सज़ा

यूपी में महिला की बेरहमी से हत्या

औरंगाबाद दंगो में पुलिस पर लगे संगीन आरोप

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -