एसिडिटी की समस्या से आराम दिलाते है धनिया के बीज और जीरा

हरी धनिया का इस्तेमाल खाने की सजावट के लिए किया जाता है.धनिया के बीज और पत्ते दोनों ही हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते है. औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण धनिया का इस्तेमाल कई बीमारियों के इलाज में किया जा सकता है.

1-तासीर में ठंडा होने के कारन धनिये के इस्तेमाल से आंखों की जलन में आराम मिलता है.इसे आँखों में इस्तेमाल करने के लिए धनिए के बीजों को सौंफ और मिश्री के साथ मिला ले.अब इन्हे अच्छे से पीसकर पाउडर बना ले.अब रोज़ाना खाना खाने के बाद इस पाउडर का सेवन गर्म पानी के साथ करे,ऐसा करने से आंखों की जलन दूर होती है. इसके अलावा इसका सेवन करने से पैरों और पेशाब में होने वाली जलन से भी छुटकारा मिलता है.

2-अगर आप एसिडिटी की समस्या से परेशान है तो थोड़े से पानी में धनिए के बीज और जीरा डाल दे.अब इसमें थोड़ी सी चाय पत्ती और थोड़ी सी चीनी मिलाकर घोल बना ले.सुबह खाली पेट इस घोल का सेवन करने से एसिडिटी की समस्या में आराम मिलता है और पाचन शक्ति भी ठीक रहती है. इसके अलावा इस चाय के सेवन से गले में होने वाली हर समस्या से भी छुटकारा मिलता है.

3-चेहरे पर पिम्पल्स या दाग धब्बे होने पर हरी धनिए की कुछ पत्तियों को बारीक़ पीसकर इसमें थोड़ी सी  हल्दी मिलाकर के गाढ़ा पेस्ट बना ले.इसे चेहरे पर लगाएं और कुछ देर बाद धों ले.अगर आप दिन में दो बार इस पेस्ट का इस्तेमाल अपनी स्किन पर करेगी तो बहुत जल्दी मुहांसों और दाग-धब्बों से छुटकारा मिलेगा और चेहरे की सुंदरता भी बढ़ेगी.

 

बरसात के मौसम में ज़रूरी है इन चीजों से परहेज रखना

कान के इंफेक्शन से राहत पाने के लिए करें ये उपाय

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -