'मेरे ब्लाउज पर चर्चा कर रहा था कांग्रेस हाईकमान, ठेस पहुंची..', मंत्री रह चुकीं बिस्मिता गोगोई ने छोड़ी पार्टी
'मेरे ब्लाउज पर चर्चा कर रहा था कांग्रेस हाईकमान, ठेस पहुंची..', मंत्री रह चुकीं बिस्मिता गोगोई ने छोड़ी पार्टी
Share:

गुवाहाटी: असम में कांग्रेस की एक महिला नेता ने अपनी ही पार्टी में महिलाओं के साथ जारी बदसलूकी को लेकर आवाज़ बुलंद की है। कलियाबोर के खुमतई से कांग्रेस विधायक रह चुकीं बिस्मिता गोगोई ने बताया कि, जब पार्टी के प्रमुख नेता राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान उनके ब्लाउज पर टिप्पणी की गई, तो इससे उन्हें काफी ठेस पहुंची। बिस्मिता गोगोई ने पार्टी छोड़ दी, अब उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया है। उन्होंने बताया कि ये वाकया तब का है, जब उन्होंने कमल के फूल की डिजाइन वाला ब्लाउज पहन रखा था।

गोगोई ने कहा कि, 'मैंने कभी इस बारे में नहीं सोचा कि मेरा ब्लाउज पर कमल के फूल वाली डिज़ाइन है। इस डिजाइन के ब्लाउज पहनना आम बात है। मैं यहाँ सार्वजनिक तौर पर अपने ब्लाउज के संबंध में बात करने में भी मुश्किल महसूस कर रही हूँ। लेकिन, ये घटना राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान की है, जब असम के खुमतई से यह गुजर रही थी। उस वक़्त मैंने ये ड्रेस पहनी थी। उसे देखकर कांग्रेस नेताओं ने सोचा कि मैं भाजपा ज्वाइन करने जा रही हूँ।' बिस्मिता गोगोई ने आगे कहा कि यहाँ तक कि कांग्रेस का हाईकमान भी ‘राजीव भवन’ में इसी मुद्दे पर चर्चा कर रहा था। असम की कांग्रेस सरकार में मंत्री पद पर रह चुकीं, बिस्मिता गोगोई ने बताया कि ये घटना उनके लिए बेहद अपमानजनक थी, जब उन्हें इस बारे में मालूम हुआ, तो वो रो पड़ीं। बिस्मिता गोगोई ने बताया कि उन्हें न केवल मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया, बल्कि पार्टी की आंतरिक बैठकों से भी दूर कर दिया गया। उन्होंने कहा कि ये एक महिला का तिरस्कार था, इससे मुझे काफी ठेस पहुँची थी।

बिस्मिता गोगोई ने कहा कि उस दिन कांग्रेस नेताओं द्वारा उनकी प्रतिष्ठा ख़त्म कर दी गई थी। उन्होंने पूछा कि जिस पार्टी में महिला विरोधी बातें होती हों, वहाँ लोग किस तरह रह सकते हैं? उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि हर कदम पर उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया है। बिस्मिता गोगोई ने बताया कि कांग्रेस नहीं चाहती थी कि वो उसकी बैठकों में शामिल हों। कई बड़े फैसले लेने में उनकी सहभागिता समाप्त कर दी गई थी। 

बता दें कि, कांग्रेस और ‘ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU)’ के 150 से ज्यादा नेता रविवार (28 जनवरी, 2024) को भाजपा ज्वाइन कर चुके हैं। असम की ही एक अन्य महिला नेता अंगकिता दत्ता भी यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास BV पर उत्पीड़न का इल्जाम लगाया था। इसके बाद कांग्रेस ने असम युवा कांग्रेस की अध्यक्ष अंगकिता दत्ता को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था। अपनी शिकायत में दत्ता ने कहा था कि, 'श्रीनिवास बीते छह महीनों से उन्हें परेशान और प्रताड़ित कर रहे हैं। वे उनपर लैंगिक टिप्पणी करते हैं, अपशब्दों कहते हैं। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों से इसकी शिकायत करने पर उन्हें गंभीर अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं।” अंगकिता दत्ता, बीते दिनों असम पहुंची भारत जोड़ो न्याय यात्रा में राहुल गांधी से न्याय मांगने भी गईं थी, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हुई। कई सालों तक कांग्रेस के लिए काम करने के बाद उन्होंने हाल ही में भाजपा का दामन थामा है। 

'5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी एक जुमला है..', केंद्र सरकार पर भड़कीं प्रियंका गांधी

सीएम सोरेन के दिल्ली आवास से 2 BMW और 36 लाख कैश जब्त ! मुख्यमंत्री अब भी लापता, जमीन घोटाले में चल रही जाँच

PFI के 15 सदस्यों को सजा-ए-मौत, घर में घुसकर पत्नी-बच्चे और माँ के सामने की थी भाजपा नेता की हत्या

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -