प्रदर्शन के दौरान बैल बिदके ,बाल -बाल बचे कांग्रेसी

जालंधर : केंद्र की यदि सरकार के खिलाफ विश्वासघात रैली और पेट्रोल -डीजल मूल्य वृद्धि का विरोध बैल गाड़ी पर बैठकर करना जालंधर में कांग्रेसियों को तब भारी पड़ गया जब बैल बिदक गए. आखिर कांग्रेसियों ने गाड़ी से कूदकर अपनी जान बचाई.

बता दें कि पेट्रोल-डीजल के महंगे दामों के विरोध में कांग्रेस नेता सुनील जाखड़, नवजोत सिद्धू, सुखजिन्द्र रंधावा सहित कई लोग एक बैलगाड़ी पर खड़े होकर कांग्रेस भवन आए लेकिन प्रदर्शन स्थल के पास ही बैलगाड़ी के दोनों बैल कार्यकर्ताओं की भीड़ देखकर अचानक बिदक गए जिससे कांग्रेसी नेता बैलगाड़ी से गिरने से बाल-बाल बचे. गाड़ीवान ने बैलों को रोकने की भरसक कोशिश की परंतु बैल काबू में न आने से अफरा-तफरी का माहौल बन गया व नेताओं ने गाड़ी से कूदकर अपनी जान बचाई.

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पुतले को सुरक्षा में रख खूब फोटो खिंचाई. पुतले की सुरक्षा के लिए सुरक्षा कर्मी तैनात किया गया ताकि कोई शरारती पुतले को पहले ही आग के हवाले न कर दे. कांग्रेस के इस विश्वासघात दिवस कार्यक्रम में लंबे अर्से के बाद किसी कार्यक्रम में सभी कांग्रेसी विधायक दिखाई दिए ,लेकिन भाजपा को घेरने के दौरान वे कई गुटों में बंटे दिखे.हलका स्तर पर एकजुट कांग्रेस ने अलग-अलग ढंग से प्रदर्शन किया. इससे कांग्रेस की एकता की पोल खुल गई .

यह भी देखें

आरएसएस की शाखाओं की सीसीटीवी से होगी निगरानी

अकाल तख़्त ने बनाया सिख सेंसर बोर्ड

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -