JNU छात्रों की मांगों के लिए बनाई समिति

नई दिल्ली : 9 फरवरी के विवादित कार्यक्रम के सिलसिले में मिली सजा के खिलाफ भूख हड़ताल कर रहे छात्रों की मांग पर विचार करने के लिए एक चार सदस्यीय समिति बनाई गई है. इस बीच सेहत बिगड़ने से तीन छात्रों ने अपना अनशन खत्म कर दिया. जेएनयू के एक बयान में बताया गया है कि रेक्टर-1, रेक्टर-2, छात्रों के डीन और रजिस्ट्रार की सदस्यता वाली एक टीम बनाने का फैसला किया है जो छात्रों और शिक्षकों से जुड़े मुद्दों पर विचार करेगी.

शांतिपूर्ण वार्ता एवं चर्चा से ही समाधान तलाशे जा सकते हैं. प्रशासन ने छात्रों से हडताल ख़त्म कर चर्चा के लिए आगे आने की अपील की है. फिलहाल चर्चा को लेकर जेएनयू छात्र संघ ने इस बारे में कोई फैसला नहीं किया है. उधर, उमर खालिद, प्रतिम घोषाल और पार्थीपन ने सेहत बिगड़ने के बाद भूख हडताल खत्म कर ली. राजद्रोह के मामले में जमानत पर रिहा किए गये उमर को जेएनयू ने एक सेमेस्टर के लिए निष्कासित किया गया है.

छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार सहित 9 छात्र पहले ही अनशन खत्म कर चुके हैं. 11 छात्र अब भी भूख हड़ताल कर रहे हैं.अनशन का आज 13 वां दिन है. हडतालियों के समर्थन में पूर्व छात्र और परिसर में रहने वाली माँए एक दिन की भूख हड़ताल कर रही हैं.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -