टेस्ट में फेल हुई कॉम्बिफ्लेम

नई दिल्ली: भारत में लोकप्रिय दर्द निवारक दवा काम्बिफ्लेम की कई खेप बाजार से वापस बुलाई जा रही है, क्योंकि देश के दवा नियंत्रक संगठन ने इन बैचों की दवा को निम्न गुणवत्ता का पाया गया. निर्माता फ्रांसीसी कम्पनी सनोफी की स्थानीय इकाई ने यह जानकारी दी|

सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल आर्गेनाइजेशन (सीडीएससीओ) द्वारा अपनी वेब साईट पर जारी नोटिस में कहा है कि काम्बिफ्लेम के कुछ बैच स्तरीय गुणवत्ता के नही पाए गये. डिसइंटीग्रेशन टेस्ट में ये नाकाम रहे. इस टेस्ट का उपयोग किसी टैबलेट या कैप्सूल के मानव शरीर में पहुंचकर टूटने के समय को मापने के लिए होता है. गुणवत्ता नियंत्रण में इसका उपयोग होता है|

काम्बिफ्लेम दरअसल पैरासिटामाल और आइबूप्रोफेन का काम्बिनेशन है.यह सनोफी के 5 बड़े ब्रांडो में से एक है. जिन बैचों की गुणवत्ता निम्न पाई गई वे जून 15 और जुलाई 15 में बनाई गई थी.जिनकी एक्सपायरी डेट क्रमशःमई 18 और जून 18 दर्ज है|

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -