चीन मामलों के विशेषज्ञ 'विक्रम मिसरी' बनेंगे देश के नए Deputy NSA, जानिए उनके बारे में सबकुछ

नई दिल्ली: चीन मामलों के विशेषज्ञ और बीजिंग में भारत के पूर्व राजदूत विक्रम मिसरी (Vikram Misri) को देश का नया उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (Deputy NSA) बनाया गया है। वह NSA अजीत डोभाल को रिपोर्ट करेंगे। 1989 बैच के भारतीय विदेश सेवा (IFS) अफसर रहे मिसरी पंकज सरन का स्थान लेंगे, जिनका कार्यकाल 31 दिसंबर 2021 को समाप्त हो रहा है।

चीन में भारतीय राजदूत के रूप में मिसरी के तीन वर्ष का कार्यकाल भी इसी माह पूरा हुआ है। मिसरी इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) में भी सेवाएं दे चुके हैं। नए Deputy NSA को हिंद-प्रशांत क्षेत्र की रणनीतिक परिस्थितियों का बेहद अनुभवी माना जाता है। बवता दें कि मिसरी अकेले ही Deputy NSA नहीं हैं। उनके अतिरिक्त राजेंद्र खन्ना और दत्ता पंडसलगीर भी इसी पद पर तैनात हैं। 7 नवंबर 1964 को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में जन्मे विक्रम मिसरी, केंद्र सरकार में विदेश मंत्रालय में अंडर सेक्रेटरी से लेकर डायरेक्टर तक का कार्यभार संभाल चुके हैं।

इसके साथ ही मिसरी देश के तीन प्रधानमंत्रियों के निजी सचिव भी रह चुके हैं। वह अप्रैल 1997 से मार्च 1998 तक पूर्व पीएम इंद्र कुमार गुजराल के निजी सचिव रहे, इसके बाद उन्होंने अक्टूबर 2012 से मई 2014 तक पीएम मनमोहन सिंह के निजी सचिव की जिम्मेदारी निभाई। साथ ही वे मई 2014 से जुलाई 2014 तक पीएम नरेंद्र मोदी के निजी सचिव भी रहे। 

सीनियर राष्ट्रीय महिला हॉकी शिविर में भाग लेने वाली है 60 महिलाएं

फिलीपीन के टाइफून राय में मरने वालों की संख्या 389 हुई

श्मशान में मुखाग्नि देने जा रहा था परिवार, अचानक चिता पर लेटे बुजुर्ग ने खोल दी आँखें...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -