पटाखों पर रोक लगाने के लिए मासूमों ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार

नई दिल्ली: शुद्ध हवा में सांस लेने के अधिकार के तहत सुप्रीम कोर्ट में तीन नवजात बच्चों ने एक अनोखी याचिका दायर की है जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे. आपको जानकारी दे कि 6 से 14 महीने के तीन मासूम बच्चों ने दशहरे और दीपावली पर पटाखे जलाने पर रोक लगाने की मांग की है.

6 से 14 महीने के बच्चों ने सुप्रीम कोर्ट में शुद्ध हवा में सांस लेने के अधिकार की मांग करते हुए याचिका दायर की है और निर्देश देने की मांग की है. याचिका में कहा गया है की दशहरा और दीवाली जैसे त्योहारों पर पटाखों की ब्रिकी पर पाबंदी लगाई जाए. आपको बता दें कि अर्जुन गोपाल, आरव भंडारी और जोया राव भसीन नाम के इन बच्चों की ओर से उनके पिताओं ने जनहित याचिका दायर की है. इस याचिका में उन्होंने कहा है कि दिल्ली में वायु प्रदूषण के कारण हालात बेहद खराब हो रहे हैं.

उन्होंने कहा कि दिल्ली में त्योहार के समय पटाखों के कारण कई बीमारियां भी हो रही हैं. इसके साथ ही राजधानी के आसपास तक़रीबन 500 टन फसलों के अवशेष जलाए जाते हैं. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट कोई ठोस दिशा निर्देश जारी करे और प्रदूषण पर पाबंदी लगाए. सूत्रों के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई अगले हफ्ते तक कर सकता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -