प्रधानमंत्री मोदी ने मानी नीतीश कुमार की मांग

Sep 01 2016 04:10 PM
प्रधानमंत्री मोदी ने मानी नीतीश कुमार की मांग

पटना : बिहार में बाढ़ आने के बाद राहत और आपदा के इंतजाम किए जा रहे हैं लेकिन इस मामले में केंद्र सरकार ने राज्य सरकार की मदद के लिए अपना दल भेजा है। दरअसल बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट कर बाढ़ के दौरान बिहार में उपजे खराब हालात में सहायता मांगी थी जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य सरकार की बात मान ली और अब केंद्र सरकार द्वारा राज्य की सहायता के लिए 4 सदस्यीय दल पटना भेज दिया है। यह दल आपदाग्रस्त बिहार की सहायता करेगा।

दरअसल यह अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा जो कि फरक्या बैराज के निर्माण के बाद सिल्ट की परेशानी पर अध्ययन करेगा। गौरतलब है कि 4 सदस्यीय दल में गंगा बाढ़ नियंत्रण बोर्ड के सदस्य एके सिंह, केंद्रीय जल आयोग के प्रमुख इंजीनियर एसके साहू, आईआईटी दिल्ली के प्रोफेसर एके गोसाई ओर केंद्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण के सलाहकार रजनीश रंजन शामिल हैं। यह दल बाढ़ की स्थितियों का अवलोकन करेगा।

गौरतलब है कि बाढ़ से बीते दिनों 12 जिलों के 35 लाख लोग प्रभावित हुए ऐसे में राज्य के 175 लोगों की जान भी जा चुकी है। विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि सरकार लोगों को राहत नहीं पहुंचा रही है।

लालू-नीतीश के कारण बिहार का विकास नहीं

बिहार में बाढ़ के कारण हाहाकार, 60 से अधिक की हो गई मौत