बार-बार भूख लगने के हो सकते हैं 4 बड़े कारण

बार-बार भूख लगने के हो सकते हैं 4 बड़े कारण

कुछ लोग चाहे जितना भी खा लें, उन्हें दोबारा भूख लग जाती है. क्या आपके साथ भी ऐसा होता है? कभी इसके पीछे के कारण को जानने की कोशिश की है कि आपको भूख अधिक क्यों लगती है? यानि ये खाने की चाहत भी हो सकती है और ये कोई बीमारी भी हो सकती है जिसके कारण आपको भूख लगती है. एक शोध की मानें तो भोजन में प्रोटीन और फाइबर कम शामिल करने से भूख बढ़ जाती है. प्रोटीन और फाइबर युक्त आहार के सेवन से पेट देर तक भरा हुआ महसूस होता है, लेकिन जब शरीर में इनकी कमी होती है, तो हर समय खाने का मन करता है. ऐसे में कुछ टिप्स अपना सकते हैं. 

नाश्ता जरूर करें
सुबह का नाश्ता स्किप करने से भी आपको दिन भर भूख महसूस होती है. नाश्ता करने से ऊर्जावान बने रहते हैं. इस बात का ध्यान रखें कि आपके नाश्ते में प्रोटीन और फाइबर जरूर शामिल हो. जब ये दोनों पोषक तत्व शरीर में जा चुके होंगे, तो सारा दिन भूख कम लगेगी. इससे आपका वजन भी नहीं बढ़ेगा.

कैलोरी ना करें मिस
ऐसा नहीं है कि आपके शरीर को कैलोरी की जरूरत नहीं होती है. आप जिस तरह से सारा दिन कड़ी मेहनत करते हैं, उसके लिए कैलोरी की जरूरत होती है. यदि आप लो कैलोरी डाइट लेते हैं, तो आपको सारा दिन भूख लगती रहेगी. इससे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो हाई कैलोरी से भरपूर डाइट लें.

आराम से खाएं
खाना खाने में जल्दबाजी ना करें. चैन से बैठकर खाना खाएं. कॉलेज, स्कूल या फिर ऑफिस जाने के चक्कर में अक्सर लोग या तो नहीं खाते हैं या फिर जल्दी-जल्दी खाकर निकल पड़ते हैं. इससे ना तो खाना आप अच्छी तरह से चबा पाते हैं और ना ही इसे पेट में आराम से पचने के लिए समय मिल पाता है. बिना चबाए खाना खाने से जल्दी नहीं पचता है. इससे पेट संबंधित समस्याएं हो सकती हैं. 

नींद लें पूरी
रात में देर रात जागकर मोबाइल, टीवी और दूसरे गैजेट्स पर लगे रहने से भी नींद लोगों की उड़ गई है. चार-पांच घंटे ही सोने का समय मिल पाता है. उस पर भी रात भर नींद टूटती रहती है. सभी को कम से कम 7-8 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए. इससे आप ऊर्जावान बने रहते हैं. पूरी नींद लेने से तबीयत अच्छी रहती है, पेट ठीक रहता है और बार-बार भूख भी नहीं लगती.  

दिमाग को तेज़ बनाता है केला, जानें इसके फायदे

प्रेगनेंसी में अधिक खाते हैं मीठा तो बच्चे को हो सकती है ये परेशानी

भूख को कम करता सौंफ का पानी, ये हैं अन्य लाभ