हैकर्स के चंगुल में नहीं फंसती कार, कंट्रोल से लेकर होगा सब कुछ
हैकर्स के चंगुल में नहीं फंसती कार, कंट्रोल से लेकर होगा सब कुछ
Share:

कार हैकिंग साइबर अपराधियों द्वारा वाहन के इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम तक अनधिकृत पहुंच और नियंत्रण है। जैसे-जैसे कारें डिजिटल सिस्टम पर अधिक कनेक्टेड और निर्भर होती जा रही हैं, हैकिंग का जोखिम बढ़ता जा रहा है। कल्पना करें कि कोई हैकर आपकी कार के स्टीयरिंग, ब्रेक या यहां तक ​​कि इसकी गति को भी नियंत्रित कर ले। इसके परिणाम गंभीर हैं, जिसमें चोरी से लेकर जानलेवा परिदृश्य तक शामिल हैं।

कारें असुरक्षित क्यों हैं?

आधुनिक वाहन सिर्फ़ मशीन नहीं हैं; वे पहियों पर चलने वाले कंप्यूटर हैं। वे नेविगेशन, मनोरंजन, सुरक्षा और संचार के लिए उन्नत प्रणालियों से सुसज्जित हैं। इनमें से प्रत्येक प्रणाली, सुविधा और बढ़ी हुई कार्यक्षमता प्रदान करते हुए, हैकर्स के लिए संभावित प्रवेश बिंदु भी प्रस्तुत करती है। ये सिस्टम जितने अधिक एकीकृत होंगे, हैकर के लिए शोषण करने के उतने ही अधिक रास्ते होंगे।

कनेक्टेड वाहनों का उदय

कनेक्टेड कारें अन्य डिवाइस और सिस्टम, जैसे कि स्मार्टफोन, अन्य कारें और ट्रैफ़िक लाइट जैसी बुनियादी सुविधाओं के साथ संवाद कर सकती हैं। यह कनेक्टिविटी वास्तविक समय ट्रैफ़िक अपडेट, रिमोट डायग्नोस्टिक्स और यहां तक ​​कि स्वायत्त ड्राइविंग क्षमताओं जैसी सुविधाओं की अनुमति देती है। हालांकि, इसका मतलब यह भी है कि सिस्टम के एक हिस्से में सेंध लगने से कार के दूसरे हिस्सों तक पहुंच की संभावना हो सकती है।

हैकर्स कैसे कारों को निशाना बनाते हैं

हैकर्स द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले सामान्य तरीके

हैकर्स कार के सिस्टम तक पहुँच प्राप्त करने के लिए कई तकनीकों का उपयोग करते हैं। इन तरीकों को समझने से उनसे बचाव करने में मदद मिल सकती है।

वायरलेस कुंजी फ़ोब हमले

वायरलेस की फ़ॉब सुविधाजनक तो हैं, लेकिन वे असुरक्षित भी हैं। हैकर्स आपके की फ़ॉब से सिग्नल कैप्चर करने के लिए डिवाइस का इस्तेमाल कर सकते हैं और इसका इस्तेमाल आपकी कार को अनलॉक करने और स्टार्ट करने के लिए कर सकते हैं। इस तरह के हमले को रिले अटैक के रूप में जाना जाता है, जहाँ हैकर आपके की फ़ॉब से सिग्नल को बढ़ाता है, जिससे कार को लगता है कि फ़ॉब पास में है।

OBD पोर्ट एक्सेस

ऑन-बोर्ड डायग्नोस्टिक्स (OBD) पोर्ट एक और कमजोरी है। इस पोर्ट का इस्तेमाल आम तौर पर मैकेनिक कार की समस्याओं का निदान करने के लिए करते हैं। हालांकि, अगर कोई हैकर इस पोर्ट तक पहुंच जाता है, तो वह कार के विभिन्न कार्यों को नियंत्रित कर सकता है। वे चाबियों को फिर से प्रोग्राम कर सकते हैं, सुरक्षा सुविधाओं को अक्षम कर सकते हैं और यहां तक ​​कि कार को स्टार्ट भी कर सकते हैं।

इन्फोटेनमेंट सिस्टम के लाभ

कार के मनोरंजन और नेविगेशन सुविधाओं को नियंत्रित करने वाला इन्फोटेनमेंट सिस्टम भी निशाना बन सकता है। हैकर्स कार के महत्वपूर्ण सिस्टम तक पहुँच प्राप्त करने के लिए सॉफ़्टवेयर की कमज़ोरियों का फ़ायदा उठा सकते हैं। इससे वे आपकी बातचीत को सुन सकते हैं, आपकी लोकेशन को ट्रैक कर सकते हैं या यहाँ तक कि कार को अपने नियंत्रण में भी ले सकते हैं।

वास्तविक दुनिया के उदाहरण

2015 में, शोधकर्ताओं ने जीप चेरोकी को रिमोट से नियंत्रित करके कार हैकिंग के संभावित खतरों का प्रदर्शन किया। वे कार के स्टीयरिंग, ब्रेक और ट्रांसमिशन में हेरफेर करने में सक्षम थे। इस हाई-प्रोफाइल मामले ने ऑटोमोटिव सिस्टम में बेहतर सुरक्षा की तत्काल आवश्यकता को उजागर किया।

अपनी कार को हैकर्स से बचाने के उपाय

नियमित सॉफ्टवेयर अपडेट

अपनी कार की सुरक्षा करने का सबसे सरल और सबसे प्रभावी तरीका है इसके सॉफ़्टवेयर को अपडेट रखना। कार निर्माता अक्सर सुरक्षा कमज़ोरियों को ठीक करने और सिस्टम के प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए अपडेट जारी करते हैं। इन अपडेट को अनदेखा करने से आपकी कार ज्ञात शोषण के संपर्क में आ जाती है।

अपने वायरलेस कुंजी फ़ोब को सुरक्षित करें

रिले हमलों से बचने के लिए, अपने की-फ़ॉब को सिग्नल-ब्लॉकिंग पाउच में रखें, जिसे फैराडे पाउच भी कहा जाता है। ये पाउच हैकर्स को आपके की-फ़ॉब से सिग्नल कैप्चर करने से रोकते हैं। वैकल्पिक रूप से, यदि आपका कार निर्माता यह विकल्प प्रदान करता है, तो आप अपने की-फ़ॉब पर वायरलेस सिग्नल को बंद कर सकते हैं।

अनावश्यक सुविधाएँ अक्षम करें

जिन सुविधाओं का आप इस्तेमाल नहीं करते हैं, उन्हें बंद करने से आपकी कार की हैकिंग की संभावना काफी हद तक कम हो सकती है। उदाहरण के लिए, अगर आप अपनी कार में ब्लूटूथ या वाई-फाई का इस्तेमाल नहीं करते हैं, तो हैकर्स के लिए संभावित प्रवेश बिंदुओं को खत्म करने के लिए इन सुविधाओं को अक्षम करें।

कार सुरक्षा प्रणाली स्थापित करें

आधुनिक कार सुरक्षा प्रणाली हैकिंग के प्रयासों का पता लगाने और उन्हें रोकने के लिए डिज़ाइन की गई हैं। ये सिस्टम आपको संदिग्ध गतिविधि के बारे में सचेत कर सकते हैं और अगर कार तक पहुँचने का कोई अनधिकृत प्रयास पाया जाता है तो कार को स्थिर भी कर सकते हैं।

उन्नत सुरक्षात्मक उपाय

एन्क्रिप्शन का उपयोग करें

एन्क्रिप्शन डेटा की सुरक्षा के लिए एक शक्तिशाली उपकरण है। सुनिश्चित करें कि आपकी कार द्वारा प्रेषित कोई भी डेटा, जैसे स्थान डेटा या व्यक्तिगत जानकारी, एन्क्रिप्टेड है। इससे हैकर्स के लिए डेटा को इंटरसेप्ट करना और उसका उपयोग करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

सुरक्षित OBD पोर्ट

OBD पोर्ट की सुरक्षा करना बहुत ज़रूरी है। अनधिकृत पहुँच को रोकने के लिए OBD पोर्ट लॉक का इस्तेमाल करें। इसके अलावा, ऐसे डिवाइस का इस्तेमाल करने पर विचार करें जो इस्तेमाल में न होने पर OBD पोर्ट को निष्क्रिय कर सके।

बहु-कारक प्रमाणीकरण का उपयोग करें

जहाँ तक संभव हो, अपनी कार के सिस्टम तक पहुँचने के लिए मल्टी-फैक्टर ऑथेंटिकेशन (MFA) का उपयोग करें। MFA को एक्सेस देने से पहले एक से ज़्यादा तरह के सत्यापन की ज़रूरत होती है, जिससे हैकर्स के लिए नियंत्रण पाना ज़्यादा मुश्किल हो जाता है।

असामान्य गतिविधि पर नियमित रूप से नज़र रखें

सतर्क रहें और अपनी कार पर नज़र रखें, ताकि छेड़छाड़ या अनधिकृत पहुँच के किसी भी संकेत का पता न चले। अप्रत्याशित लाइट या अलार्म जैसे असामान्य व्यवहार से हैकिंग के प्रयास का संकेत मिल सकता है। इन संकेतों को तुरंत संबोधित करने से आगे की समस्याओं को रोका जा सकता है।

कार सुरक्षा का भविष्य

ऑटोमोटिव साइबर सुरक्षा में प्रगति

ऑटोमोटिव उद्योग साइबर सुरक्षा चुनौतियों का समाधान करने के लिए लगातार विकसित हो रहा है। निर्माता अपने वाहनों की सुरक्षा के लिए उन्नत सुरक्षा तकनीकों और प्रोटोकॉल में निवेश कर रहे हैं। इसमें अधिक मजबूत एन्क्रिप्शन विधियों का उपयोग करना और घुसपैठ का पता लगाने वाली प्रणालियाँ विकसित करना शामिल है।

विधायी उपाय

दुनिया भर की सरकारें ऑटोमोटिव साइबर सुरक्षा के महत्व को पहचान रही हैं। कार निर्माताओं द्वारा कड़े सुरक्षा मानकों का पालन सुनिश्चित करने के लिए नए नियम पेश किए जा रहे हैं। इन उपायों का उद्देश्य वाहनों को सुरक्षित बनाना और साइबर हमलों के प्रति कम संवेदनशील बनाना है।

साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों के साथ सहयोग

कार निर्माता संभावित खतरों की पहचान करने और उन्हें कम करने के लिए साइबर सुरक्षा फर्मों के साथ तेजी से सहयोग कर रहे हैं। विशेषज्ञों के साथ काम करके, वे हैकर्स से आगे रह सकते हैं और सुनिश्चित कर सकते हैं कि उनके वाहन यथासंभव सुरक्षित हों।

अगर आपकी कार हैक हो जाए तो क्या करें?

तत्काल कार्रवाई

अगर आपको संदेह है कि आपकी कार हैक हो गई है, तो सबसे पहले उसे इंटरनेट से डिस्कनेक्ट कर दें। इससे आगे अनधिकृत पहुंच को रोकने में मदद मिल सकती है। इसके बाद, अगले चरणों के बारे में मार्गदर्शन के लिए अपनी कार निर्माता से संपर्क करें।

घटना की रिपोर्टिंग

हैकिंग की घटना की रिपोर्ट स्थानीय अधिकारियों को दें। उन्हें यथासंभव विस्तृत जानकारी दें, जिसमें आपके द्वारा देखी गई कोई भी संदिग्ध गतिविधि और अपनी कार को सुरक्षित करने के लिए आपके द्वारा पहले से उठाए गए कदम शामिल हों।

व्यावसायिक निरीक्षण

किसी भी सुरक्षा उल्लंघन की पहचान करने और उसे ठीक करने के लिए किसी पेशेवर से अपनी कार का निरीक्षण करवाएँ। वे मैलवेयर, अनधिकृत पहुँच बिंदुओं और अन्य समस्याओं की जाँच कर सकते हैं जो आपकी कार की सुरक्षा से समझौता कर सकती हैं।

स्वयं को और दूसरों को शिक्षित करना

सूचित रहना

कार हैकिंग और साइबर सुरक्षा के नवीनतम रुझानों पर अपडेट रहें। जानकारी के विश्वसनीय स्रोतों का पालन करें और साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों से न्यूज़लेटर की सदस्यता लेने पर विचार करें। सूचित रहना खुद को और अपने वाहन को सुरक्षित रखने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है।

ज्ञान को साझा करना

अपने दोस्तों और परिवार के लोगों को कार साइबर सुरक्षा के महत्व के बारे में बताएं। उन्हें अपने वाहनों की सुरक्षा में मदद करने के लिए सुझाव और जानकारी साझा करें। जितने ज़्यादा लोग इन खतरों के बारे में जानते हैं, हैकर्स के लिए सफल होना उतना ही मुश्किल होता जाता है।

कार सुरक्षा में वाहन निर्माताओं की भूमिका

निर्माताओं की जिम्मेदारी

वाहन निर्माताओं के पास अपने वाहनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है। इसमें शुरू से ही सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सिस्टम डिजाइन करना और कमज़ोरियों के लिए लगातार परीक्षण करना शामिल है।

निरंतर सुधार

ख़तरे का परिदृश्य हमेशा बदलता रहता है, और वाहन निर्माताओं को अपने सुरक्षा उपायों में लगातार सुधार करना चाहिए। इसमें नियमित सॉफ़्टवेयर अपडेट, कमज़ोरियों को ठीक करना और नई हैकिंग तकनीकों के बारे में जानकारी रखना शामिल है।

ग्राहक सहेयता

कार मालिकों को अपने वाहनों को साइबर खतरों से बचाने में मदद करने के लिए उत्कृष्ट ग्राहक सहायता प्रदान करना महत्वपूर्ण है। ऑटोमेकर्स को ग्राहकों को संसाधन और सहायता प्रदान करनी चाहिए, जिसमें यह मार्गदर्शन शामिल है कि अपनी कारों को कैसे सुरक्षित रखें और हैक होने की स्थिति में क्या करें।

कार मालिकों के लिए DIY सुरक्षा युक्तियाँ

मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें

अगर आपकी कार या उससे जुड़े किसी ऐप को पासवर्ड की ज़रूरत है, तो सुनिश्चित करें कि वे मज़बूत और अनोखे हों। “123456” या “पासवर्ड” जैसे आसानी से अनुमान लगाए जा सकने वाले पासवर्ड का इस्तेमाल करने से बचें। इसके बजाय, अक्षरों, संख्याओं और प्रतीकों के संयोजन का इस्तेमाल करें।

सार्वजनिक वाई-फाई से बचें

सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क अक्सर कम सुरक्षित होते हैं और हैकर्स द्वारा उनका फायदा उठाया जा सकता है। अपनी कार को सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क से कनेक्ट करने से बचें। अगर आपको वाई-फाई का इस्तेमाल करना है, तो सुनिश्चित करें कि यह सुरक्षित और भरोसेमंद नेटवर्क है।

नियमित रखरखाव

आपकी कार के इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम को सुरक्षित रखने और सही ढंग से काम करने के लिए उनका नियमित रखरखाव ज़रूरी है। इसमें सॉफ़्टवेयर अपडेट की जाँच करना और यह सुनिश्चित करना शामिल है कि सभी सुरक्षा सुविधाएँ ठीक से काम कर रही हैं।

सुरक्षित कार के लाभ

मन की शांति

यह जानकर कि आपकी कार सुरक्षित है, मन को शांति मिलती है। आप यह जानकर आत्मविश्वास से गाड़ी चला सकते हैं कि आपका वाहन और व्यक्तिगत डेटा हैकर्स से सुरक्षित है।

व्यक्तिगत डेटा की सुरक्षा

आधुनिक कारें व्यक्तिगत डेटा का एक महत्वपूर्ण हिस्सा संग्रहीत करती हैं, जिसमें संपर्क जानकारी, स्थान इतिहास और यहां तक ​​कि भुगतान विवरण भी शामिल है। अपनी कार को सुरक्षित रखने से इस संवेदनशील जानकारी को हैकर्स द्वारा एक्सेस और दुरुपयोग किए जाने से बचाने में मदद मिलती है।

चोरी रोकना

बेहतर सुरक्षा उपाय चोरों को रोक सकते हैं। जब कार को हैक करना मुश्किल होता है, तो वह कम आकर्षक लक्ष्य बन जाती है, जिससे चोरी का जोखिम कम हो जाता है।

कार हैकिंग के बारे में आम मिथक

“यह मेरे साथ नहीं होगा”

बहुत से लोग मानते हैं कि कार हैकिंग दुर्लभ है और उनके साथ ऐसा नहीं होगा। हालाँकि, जैसे-जैसे कनेक्टेड कारों की संख्या बढ़ती है, वैसे-वैसे जोखिम भी बढ़ता है। अपने वाहन की सुरक्षा के लिए सक्रिय कदम उठाना महत्वपूर्ण है।

“केवल महंगी कारों को ही निशाना बनाया जाता है”

हैकर्स केवल लग्जरी गाड़ियों को ही नहीं, बल्कि इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम वाली किसी भी कार को निशाना बना सकते हैं। डिजिटल घटकों वाली कोई भी कार जोखिम में है, इसलिए सभी कार मालिकों के लिए संभावित खतरों के बारे में जागरूक होना ज़रूरी है।

“मेरी कार इतनी पुरानी हो गई है कि उसे हैक नहीं किया जा सकता”

यहां तक ​​कि बुनियादी इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम वाली पुरानी कारें भी हैकिंग के लिए असुरक्षित हो सकती हैं। हालांकि उनमें प्रवेश के कम रास्ते हो सकते हैं, लेकिन वे हमलों से सुरक्षित नहीं हैं। आपकी गाड़ी चाहे कितनी भी पुरानी क्यों न हो, उससे जुड़े खास जोखिमों को समझना ज़रूरी है।

अंतिम विचार

अपनी कार की सुरक्षा पर नियंत्रण रखना

जानकारी और सक्रियता बनाए रखकर आप अपनी कार को हैकर्स से बचा सकते हैं। इस गाइड में बताए गए सुझावों और उपायों को लागू करने से आपको बिना किसी डर के आधुनिक ऑटोमोटिव तकनीक के लाभों का आनंद लेने में मदद मिलेगी।

कार हैकिंग की रोकथाम का भविष्य

जैसे-जैसे तकनीक आगे बढ़ती जा रही है, वैसे-वैसे कार हैकिंग से बचाव के तरीके भी आगे बढ़ते जा रहे हैं। समय से आगे रहना ज़रूरी है, और यह सुनिश्चित करने के लिए निरंतर सतर्कता ज़रूरी है कि आपका वाहन सुरक्षित रहे।

सतर्कता का महत्व

हमेशा सतर्क रहें और अपनी कार की साइबर सुरक्षा को प्राथमिकता दें। नियमित रूप से अपडेट की जाँच करें, असामान्य गतिविधि पर नज़र रखें और खुद को और दूसरों को शिक्षित करें। ऐसा करके, आप अपने और अपने प्रियजनों के लिए सुरक्षित ड्राइविंग अनुभव सुनिश्चित कर सकते हैं।

डायबिटिक मर्दों में औरतों से ज्यादा इस गंभीर बीमारी का खतरा कैसे होता है, स्टडी में हुआ खुलासा

क्या नमक का पानी पीने से वाकई लगती है भूख?

हाई कोलेस्ट्रॉल के मरीजों को गलती से भी नहीं करना चाहिए इन चीजों का सेवन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -