पीएम को भगवान कहते हुए बोले राकेश सिन्हा- "राम की तरह लिया फैसला..."

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से तीनों कृषि कानूनों को वापस लिए जाने की घोषणा के उपरांत सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों अपने-अपने स्तर पर इस फैसले पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं. राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना भगवान राम से की है. कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के निर्णय के उपरांत राकेश सिन्हा ने बोला है  कि भगवान राम ने जो निर्णय उस वक्त लिया था उसी तरह के लोकोपबाद से बचने के लिए पीएम मोदी ने ये फैसला किया है. उन्होंने यह भी कहा कि किसी कानून को वापस लेने से उसकी न्यूनता नहीं सिद्ध करता है. लोकशाही में अहंकार और दुराग्रह का कोई स्थान नहीं है. 

राकेश सिन्हा ने आगे बोला है कि गुरु पर्व पर इस निर्णय से किसानों को तोहफा दे दिया है. अब सभी किसान खुशी-खुशी अपने घर जा सकते है और अपने काम में लग जाएंगे. साथ ही राकेश सिन्हा ने किसान नेता राकेश टिकैत पर भी हमला करते हुए बोला है कि राकेश टिकैत लक्ष्मण रेखा पार कर रहे हैं. वो ना तो किसान हैं और ना ही किसान नेता, वो महज एक कठपुतली हैं जिसका काम दूसरों के इशारों पर नाचना है.

आंदोलनकारी किसान स्थिर मन से चिंतन करेंः मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी की घोषणा के उपरांत राकेश सिन्हा ने ट्वीट कर बोला है कि कृषि कानून तो वापस हुआ पर आंदोलनकारी किसान स्थिर मन और चित्त से आत्मालोचन करें.

 

'कृषि कानून वापस हुए अब जल्द ही CAA भी रद्द होगा...', PM के फैसले पर बोले ओवैसी

त्रिपुरा निकाय चुनाव से पहले भाजपा कार्यकर्ताओं पर TMC का हमला, 19 घायल

'पीएम मोदी ने दिखाया बड़प्पन...', कृषि कानूनों की वापसी पर बोले सत्यपाल मलिक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -