बीएस येदियुरप्पा का इस्तीफा, कर्नाटक को मिलेगा नया मुख्यमंत्री

बैंगलोर: तमाम तरह की सियासी अटकलों के बीच बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक के सीएम पद से इस्तीफा देने की घोषणा कर दी है। इस्तीफे के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने नाराजगी की खबरों को भी खारिज करते हुए कहा है कि मैं खफा नहीं बल्कि खुश हूं। उन्होंने कहा कि मैं लंच के बाद गवर्नर से मुलाकात करुंगा। बता दें कि ये इस्तीफा ऐसे समय में हुआ है, जब आज ही कर्नाटक की भाजपा सरकार को दो वर्ष पूरे हुए हैं, ऐसे में अब हर किसी की नज़र इस बात पर है कि अब पार्टी किसे राज्य की बागडौर सौंपती है. 

अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि उन्हें कर्नाटक के लोगों के लिए बहुत काम करना है. हम सभी को मेहनत के साथ कार्य करना चाहिए. येदियुरप्पा ने कहा कि वह हमेशा अग्निपरीक्षा से गुजरे हैं. सोमवार को कर्नाटक में भाजपा सरकार के दो वर्ष पूरे होने का जश्न मनाया जा रहा है, बीएस. येदियुरप्पा भी सुबह से विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए हैं. बता दें कि कर्नाटक की सियासत को लेकर लंबे समय से कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे.

हाल ही में बीएस. येदियुरप्पा ने नई दिल्ली आकर पीएम नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी. तभी ये बात कही जा रही थी कि अब येदियुरप्पा अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं. जब से बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के कयास लगने लगे थे, तभी से लिंगायत समुदाय के लोगों का येदियुरप्पा से मुलाकात का सिलसिला जारी था. ऐसे में इन मुलाकातों को केंद्रीय नेतृत्व को दिए जा रहे एक संदेश के रूप में देखा जा रहा था. हालांकि, बाद में येदियुरप्पा ने स्पष्ट कर दिया था कि यदि केंद्रीय नेतृत्व तय करेगा तो वह इस्तीफा दे देंगे.

इज़राइली एयरलाइंस ने मोरक्को के लिए पहली वाणिज्यिक सीधी उड़ानें की शुरू

राहुल गांधी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा- "चीन की हरकतों को नजरंदाज करना..."

मानसून सत्र: फिर स्थगित हुई राज्यसभा की कार्यवाही, राहुल गांधी ट्रेक्टर चलाकर पहुंचे संसद

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -