Share:
सवालों के बदले रिश्वत: महुआ मोइत्रा के साथ विपक्ष ! भाजपा ने अपने सांसदों को जारी किया व्हिप
सवालों के बदले रिश्वत: महुआ मोइत्रा के साथ विपक्ष ! भाजपा ने अपने सांसदों को जारी किया व्हिप

नई दिल्ली: सवालों के बदले रिश्वत मामले को लेकर मुश्किलों में घिरीं तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद महुआ मोइत्रा मामले पर कल लोकसभा में आचार समिति की रिपोर्ट पेश हो सकती है। सूत्रों का कहना है कि, रिपोर्ट पेश होने के बाद समिति की सिफ़ारिश के आधार पर महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता को निरस्त करने का प्रस्ताव भी लाया जाएगा। विपक्ष रिपोर्ट पर मत विभाजन की मांग कर सकता है, जिसको देखते हुए भाजपा ने अपने सांसदों के लिए व्हिप जारी कर कल सदन में मौजूद रहने को कहा है। 

महुआ मोइत्रा के निष्कासन संबंधी अचार समिति की रिपोर्ट पहले 5 दिसंबर को लोकसभा में पेश होने की उम्मीद जाहिर की गई थी। महुआ के मुद्दे पर सदन की कार्यवाही के दौरान जमकर बवाल भी हुआ। महुआ मोइत्रा के मुद्दे पर आज निचले सदन में जमकर हंगामा हुआ था।   दरअसल महुआ मोइत्रा को 'रिश्वत लेकर सवाल पूछने' के मामले में सदन से निष्कासित करने की सिफारिश की गई थी। लोकसभा सचिवालय द्वारा प्रसारित कार्य सूची के अनुसार, आचार समिति के अध्यक्ष विनोद कुमार सोनकर समिति की रिपोर्ट सदन में रखेंगे।

समिति ने 9 नवंबर को एक बैठक में "रिश्वत लेकर सवाल पूछने" के आरोप पर महुआ मोइत्रा को लोकसभा से निष्कासित करने की अनुशंसा करते हुए अपनी रिपोर्ट तैयार की थी। कमेटी के 6 सदस्यों ने रिपोर्ट के पक्ष में वोट किया था। इनमें कांग्रेस सांसद परनीत कौर भी शामिल थीं, जिन्हें पहले पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया था। विपक्षी पार्टियों से जुड़े पैनल के 4 सदस्यों ने असहमति नोट पेश किए थे। विपक्षी सदस्यों ने रिपोर्ट को "फिक्स्ड मैच" बताया था। भाजपा सांसद निशिकांत दुबे द्वारा दायर शिकायत की समिति ने समीक्षा की थी। महुआ मोइत्रा को तभी निष्कासित किया जा सकता है, जब सदन पैनल की सिफारिश के समर्थन में मतदान करे।

बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय के वकील जय अनंत देहाद्राई ने भी महुआ के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी, जिन्होंने आरोप लगाया था कि मोइत्रा ने संसद में सवाल पूछने के लिए व्यवसायी दर्शन हीरानंदानी से घूस ली थी। देहाद्राई ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे को भी इस संबंध में लिखा था और दुबे की शिकायत के आधार पर स्पीकर ओम बिरला ने मामले को आचार समिति को भेज दिया था। साथ ही दुबे ने लोकपाल में भी शिकायत दी थी।

अब बाढ़ मुक्त होने की तैयारी ! चेन्नई की स्थिति को देखते हुए पीएम मोदी ने भारत के पहले 'बाढ़ शमन प्रोजेक्ट' को दी मंजूरी

आयकर विभाग की छापेमारी में मिला खज़ाना, 50 करोड़ नकद जब्त, नोटों की गिनती अब भी जारी..

भारत में 'हमास' जैसा आतंकी हमला ? BSF के IG ने बताया - क्या है हिंदुस्तान की तैयारी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -