बिहार में बड़ा उलटफेर! RJD बनी सबसे बड़ी पार्टी

पटना: बिहार में बड़ा राजनीतिक उलटफेर होता नजर आ रहा है। ओवैसी की पार्टी AIMIM के 5 विधायकों में से 4 ने पार्टी छोड़कर लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल का थामन थाम लिया है। इसी के साथ बिहार में RJD सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। वर्ष 2020 के नवंबर महीने में हुए बिहार विधानसभा चुनावों में NDA के खाते में 125 सीटें आई थीं। 

वहीं, RJD के नेतृत्व लड़ने वाली महागठबंधन को 110 सीटें प्राप्त हुई थीं। इसके अतिरिक्त AIMIM को पांच, बीएसपी को एक और एलजेपी को एक सीट पर जीत मिली थी। वहीं एक सीट निर्दलीय प्रत्याशी के पाले में गई थी। हालांकि, बाद में NDA गठबंधन की सहयोगी वीआईपी ने स्वयं को गठबंधन से अलग कर दिया था। मगर इस पार्टी के 4 विधायकों में से तीन ने भाजपा का दामन थाम लिया था तथा एक MLA के निधन के बाद हुए उपचुनाव में बोचहां सीट पर RJD को जीत हासिल हुई थी।

वही इस परिवर्तन के बाद भाजपा विधायकों का आँकड़ा 74 से बढ़कर 77 हो गया था। वहीं, अभी AIMIM के विधायकों के RJD में सम्मिलित हो जाने के कारण तेजस्वी की पार्टी के विधायकों की संख्या बढ़कर अब 80 हो गई है। पटना में RJD नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ‘बिहार AIMIM के पांच विधायकों में से 4 आज हमारी पार्टी में सम्मिलित हो गए हैं। हम उनका स्वागत करते हैं। अब हम बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी हैं।’ वही वर्तमान बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन चुकी RJD के 80 विधायक हो गए हैं। वहीं, भाजपा के 77, जेडीयू के 45 और कांग्रेस के 19 MLA हैं।

'राफेल से भी ज्यादा तेज़ हैं राज्यपाल..', फ्लोर टेस्ट का आदेश दिए जाने पर भड़के संजय राउत

3 जुलाई को शपथ लेंगे देवेंद्र फडणवीस, एकनाथ शिंदे होंगे उपमुख्यमंत्री - सूत्र

राजभवन जा रहे कांग्रेस के इन बड़े नेताओं को पुलिस ने रोका, बीच सड़क पर मचा हंगामा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -