फ़र्ज़ी इंस्पेक्टर बन गांव भर से शौचालय बनवाने के नाम पर वसूले नौ - नौ सौ रूपए, लोगो ने पकड़ कर पुलिस को सौंपा

कांकेर: खुद को महिला एवं बाल विकास विभाग का इंस्पेक्टर बता एक युवक द्वारा शौचालय बनाने के लिए सब्सिडी दिलाने का झांसा देकर 100 ग्रामीणों से से 9-9 सौ रुपए वसूलने का मामला सामने आया है. जहाँ ग्रामीणों ने आरोपी युवक को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया है. 

जानकारी के अनुसार, घुरऊ यादव नामक युवक ने खुद को महिला एवं बल विकास विभाग का इंस्पेक्टर बताते हुए बुदेली गांव में करीब सौ लोगों से एक फार्म भरवा कर और शौचालय निर्माण के लिए नौ-नौ सौ रुपए वसूल किये थे. जिसके बाद युवक ने निर्माण सामग्री 20 जून तक उनके गांव में पहुंचाने की बात कही थी. आरोपी अपना नाम गौरव यादव बताता था. 

ग्रामीणों को को अपने ठगे जाने की जानकारी उस समय हुई जब ग्राम बेरवती का उप सरपंच ईश्वरलाल साहू गांव के गुम युवक घूरऊ यादव की खोज करते हुए बुदेली पहुंचा और ग्रामीणों को घूरऊ यादव की फोटो दिखाकर उसके संबंध में पूछताछ की. साहू ने बताया कि वह कोई अधिकारी नहीं है. इसके बाद ग्रामीण उसकी तलाश करने लगे. इसी बीच उसके अमोड़ा में होने की जानकारी मिली. जहां से उसे पकड़कर पुलिस को सौंप दिया गया. 

कांकेर के एएसआई खेलन साहू ने बताया कि आरोपी युवक खिलाफ धारा 420 के तहत मामला दर्ज़ किया गया है. वही उसके कब्जे से 15940 रुपए नगद और दो मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है. 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -