बैंकों का डिफॉल्‍टर्स पर 1.21 लाख करोड़ बकाया

नई दिल्‍ली : हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमे यह कहा गया है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंको के टॉप-50 डिफॉल्‍टर्स पर दिसंबर 2015 तक करीब 1.21 लाख करोड़ रुपए का बकाया हैं. जी हाँ, इस बारे में जानकारी देते हुए वित्‍त राज्‍य मंत्री जयंत सिन्‍हा ने बताया है कि बीत 3 सालो के दोरान विलफुल डिफॉल्‍टर्स की संख्‍या में काफी बढ़ोतरी देखी गई है.

जहाँ तीन सालो पहले यह संख्या 5,554 थी तो वहीँ अब यह 7,686 पर पहुँच गई है. इसके साथ ही इनपर बकाए की रकम भी जहाँ पहले 27,749 करोड़ रुपए थी तो यह अब दोगुना यानि 66,190 करोड़ रुपए हो गई है. सिन्हा ने आगे की जानकारी देते हुए बताया है कि दिसंबर 2015 तक 500 करोड़ या इससे अधिक का कर्ज लेने वाले खातों की संख्‍या 1,365 पर पहुंची है.

बताया जा रहा है कि इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, स्‍टील और टेक्‍सटाइल ऐसे क्षेत्र हैं जहां सबसे अधिक डिफॉल्‍टर्स मौजूद है. यहाँ जानकारी में ही यह बात भी सामने आई है कि भारतीय स्‍टेट बैंक की फंसी हुई रकम यहाँ सबसे ऊपर है. बताया जा रहा है कि एसबीआई के करीब 11,700 करोड़ रुपए यहाँ अटके हुए है. जबकि साथ ही यह भी बता दे कि एसबीआई और एसोसिएट्स बैंकों का कुल कर्ज 18,700 करोड़ रुपए है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -