सावधान! WhatsApp से हैक हो सकता है बैंक अकाउंट, रखे इन जरुरी बातों का ध्यान

कई स्मार्टफोन उपयोगकर्ता बैंकिंग से जुड़े काम के लिए इंटरनेट तथा स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं. जहां स्मार्टफोन से बैंकिंग पर काम करना आसान होता है, वहीं साइबर अपराधी इसका लाभ उठाते हैं. कोरोना संकट में ऑनलाइन फ्रॉड में भारी बढ़ोतरी हुई है. इसलिए, स्मार्टफोन तथा इंटरनेट के साथ काम करते वक़्त सतर्कता बरतना जरुरी है. WhatsApp के माध्यम से धोखाधड़ी के कई मामले भी सामने आ चुके हैं. इसलिए कुछ बातों का खास ध्यान रखना लाभदायी होता है.

WhatsApp बैंकिंग करने हुए इन बातों का रखें खास ध्यान:-
– WhatsApp के जरिए अपनी निजी जानकारी बैंक अकाउंट की डिटेल्स, डेबिट या क्रेडिट कार्ड या पिन नंबर, इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड न भेजें.
– किसी अनजान या अनजान नंबर से व्हाट्सएप पर भेजी गई फाइल को डाउनलोड न करें. यदि आपका मोबाइल गुम हो जाता है, तो WhatsApp को तत्काल निष्क्रिय कर दें.
– यदि आप WhatsApp पर अपना OTP मांगते हैं, तो उसका उत्तर न दें.
– जब आप अपना मोबाइल किसी अन्य शख्स को बेचते हैं, तो  और उसमें मौजूद अन्य सभी डेटा को स्थायी तौर पर हटा दें तथा फ़ैक्टरी सेटिंग्स को रिस्टोर करें.
– WhatsApp पर किसी ऐसे मैसेज पर विश्वास न करें, जो यह दावा करता हो कि WhatsApp आपके पीसी से कनेक्ट हो सकता है तथा डेस्कटॉप से ​​मैसेज भेज सकता है.
– WhatsApp पर ऑटोमैटिक डाउनलोड विकल्प को डिसेबल कर दें.
– यदि आपका मोबाइल किसी ओपन वाईफाई नेटवर्क से जुड़ा है तो WhatsApp का उपयोग न करें.

मेटा के स्वामित्व वाले इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप ने भारत में उपयोगकर्ताओं के लिए दो नए सेफ्टी फीचर ‘फ्लैश कॉल्स’ और ‘मैसेज लेवल रिपोर्टिंग’ लॉन्च किए हैं. फ्लैश कॉल्स एवं मैसेज लेवल रिपोर्टिंग फीचर लोगों को मैसेजिंग ऐप के उपयोग पर बेहतर सुरक्षा और नियंत्रण की मंजूरी देंगे.

IIT मंडी ने इन पदों पर निकाली भर्तियां, यहाँ जानें आवेदन की अंतिम दिनांक

फटाफट अमेज़न पर खेले गेम और जीतें 25 हजार तक का इनाम

WhatsApp ने बंद किए 20 लाख यूजर्स के अकाउंट, जानिए क्या है पूरा मामला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -