तेल बढ़ा तो परेशानी भी बढ़ेगी : जेटली

नई दिल्ली : वैसे तो देश की अर्थव्यवस्था को लगातार मजबूत होते हुए देखा जा रहा है. और साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि बीते दो सालो से भारतीय अर्थव्यवस्था को सबसे तेजी से आगे बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था के रूप में नजर आ रही है. लेकिन इसके साथ ही अब केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का एक चौंकाने वाला बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि पिछले कुछ समय से तेल की कीमतों में मजबूती आ रही है और इस कारण ही महंगाई भी बढ़ रही है.

वित्त मंत्री ने कहा है कि यदि ये कीमतों और भी अधिक मजबूत होती है तो इसका सीधा असर अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा और मुद्रास्फीति का दबाव भी बनेगा. गौरतलब है कि क्रूड आयल 50 डालर प्रति बैरल के साथ 7 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है. बता दे कि भारत के द्वारा अपनी जरूरत का 80 फीसदी क्रूड आयल आयात किया जाता है.

और कच्चे तेल की कीमतों में प्रति बैरल एक डालर की मजबूती के साथ ही देश का आयात खर्च 9,126 करोड़ रुपए बढ़ जाता है. जिसके कारण सामान्य महंगाई का दबाव भी मजबूत होता है. जेटली ने कहा है कि यदि कच्चे तेल में मजबूती आती है तो इससे भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी दबाव बनता है और यह भारत के लिये अच्छी खबर नहीं है. लेकिन यदि यह कीमतें कम रहती है तो इससे आसानी से निपटा जा सकता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -