जेटली ने डीडीसीए भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट के सामने रखी अपनी मन की बात

Jan 05 2016 03:51 PM
जेटली ने डीडीसीए भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट के सामने रखी अपनी मन की बात

नई दिल्ली : डीडीसीए मामले को लेकर वित मंत्री अरुण जेटली ने आम आदमी पार्टी के कुछ नेताओं के खिलाफ मानहानि का मामला पटियाला हाउस कोर्ट में दर्ज कराया था। अब इसी मामले में जेटली ने कोर्ट से कहा कि केजरीवाल व 5 अन्य लोगों ने मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ झूठा बयान दिया था। जेटली ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेताओं ने ट्वीटर, फेसबुक और सोशल मीडिया के द्वारा मुझ पर निशाना साधा।

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चढ्ढा ने केजरी के ट्वीट को रीट्वीट किया था। उनकी इस हरकत के बाद मेरे खिलाफ पब्लिक प्लेटफॉर्म पर बयानबाजी शुरु हो गई। जेटली नें दिल्ली के मुख्यमंत्री समेत आप पार्टी के 6 सदस्यों के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज कराया था।

साथ ही जेटली ने दिल्ली उच्च न्यायलय में में भी 10 करोड़ की सिविल मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था। दरअसल आप ने जेटली पर दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन में भ्रष्टाचार के मामले में संलिप्त होने का आरोप लगाया था। आप ने इसके लिए प्रेस कांफ्रेंस कर कहा था कि जेटली जब डीडीसीए के प्रेसीडेंट के पद पर थे, तब उन्होने 24 करोड़ की लागत वाले स्टेडियम को 114 करोड़ की लागत में बनवाया था।

90 करोड़ रुपए कहां खर्च किए गए इसका कोई ब्योरा नही दिया गया है। आप ने जेटली को मोदी सरकार का सबसे भ्रष्ट नेता बताया। इन्हीं कमेंट्स के आधार पर जेटली ने 21 दिसंबर को मानहानि का केस दायर किया। हांला कि इसके बाद भी आप नेताओं का जेटली पर हमला जारी है। इसके बाद केजरी ने ट्वीट कर कहा कि केस दर्ज कराकर हमें डराने की कोशिश न करें। भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी जंग जारी रहेगी।