चेहरे की चिपचिपाहट और टैनिंग से हो गए है परेशान? तो अपनाएं ये उपाय, मिलेगा छुटकारा
चेहरे की चिपचिपाहट और टैनिंग से हो गए है परेशान? तो अपनाएं ये उपाय, मिलेगा छुटकारा
Share:

गर्मियों के महीनों के दौरान, तेज़ धूप और पसीने के संयोजन से विभिन्न स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है, खासकर त्वचा से संबंधित। पसीने, धूल, मिट्टी और प्रदूषण जैसे कारकों के कारण त्वचा की लालिमा और सुस्ती जैसी समस्याएं काफी आम हैं, जो पिंपल्स और ब्रेकआउट जैसी समस्याओं का कारण बन सकती हैं। ऐसे में लोग अक्सर अपनी त्वचा को तरोताजा और स्वस्थ बनाए रखने के लिए तरह-तरह के तरीकों का सहारा लेते हैं। आसानी से उपलब्ध सामग्रियों से बने घरेलू स्क्रब त्वचा को पुनर्जीवित करने में काफी प्रभावी हो सकते हैं।

स्ट्रॉबेरी और चावल का स्क्रब
गर्मियों के दौरान अतिरिक्त तेल को खत्म करने और टैनिंग को दूर करने के लिए स्ट्रॉबेरी एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। इस स्क्रब को तैयार करने के लिए स्ट्रॉबेरी को मैश करके चावल के आटे के साथ मिला लें. इस मिश्रण से अपने चेहरे पर गोलाकार गति में धीरे-धीरे मालिश करें। 5 से 6 मिनट मसाज करने के बाद अपने चेहरे को पानी से अच्छी तरह धो लें।

लाल मसूर की दाल और दही का स्क्रब
लाल मसूर की दाल सर्वोत्तम सौंदर्य सामग्री में से एक मानी जाती है, जो चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने में सक्षम है और एक उत्कृष्ट स्क्रब के रूप में कार्य करती है, खासकर तैलीय त्वचा के लिए। इस स्क्रब को बनाने के लिए सूखी लाल मसूर दाल को बारीक पीस लें और इसे दही के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर 4 से 5 मिनट तक स्क्रब करें और फिर धो लें। बाद में किसी फेसवॉश या अतिरिक्त क्लींजिंग एजेंट का उपयोग करने की आवश्यकता नहीं है।

पपीता स्क्रब
गर्मी के मौसम में तैलीय त्वचा वाले लोगों को पिंपल्स जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में पपीते का स्क्रब फायदेमंद साबित हो सकता है। यह घरेलू स्क्रब न केवल पिंपल की समस्या को दूर करता है बल्कि त्वचा को स्वस्थ, चमकदार बनाए रखने में भी मदद करता है। इस स्क्रब को बनाने के लिए पके पपीते का गूदा लें और उसे अच्छे से मैश कर लें। इसे गेहूं के आटे के साथ मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। इस मिश्रण से अपने चेहरे को धीरे से रगड़ें, फिर ठंडे पानी से धो लें। पानी का थोड़ा ठंडा होना बेहतर है। इससे न सिर्फ पिंपल की समस्या दूर होती है बल्कि त्वचा में चमक भी आती है।

मक्के के आटे का स्क्रब
अत्यधिक तैलीय त्वचा वालों के लिए मक्के के आटे का स्क्रब अत्यधिक फायदेमंद हो सकता है। बस मक्के के आटे को बारीक पीस लें और इसमें गुलाब जल मिला लें। इस मिश्रण का उपयोग त्वचा से अतिरिक्त तेल और अशुद्धियों को हटाने के लिए स्क्रब के रूप में किया जा सकता है, जिससे त्वचा ताज़ा और तरोताजा महसूस होती है।

प्राकृतिक सामग्रियों से बने घरेलू स्क्रब का उपयोग करने से न केवल त्वचा को एक्सफोलिएट करने में मदद मिलती है, बल्कि यह भी सुनिश्चित होता है कि त्वचा पर कोई हानिकारक रसायन न लगे, जिससे प्रतिकूल प्रतिक्रियाओं का खतरा कम हो जाता है। इन स्क्रब के नियमित उपयोग से पूरे गर्मी के मौसम में त्वचा को स्वस्थ, चमकदार बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

अंत में, गर्मी के महीनों के दौरान अपनी त्वचा को तरोताजा और स्वस्थ रखने के लिए अपनी त्वचा की देखभाल की दिनचर्या में घरेलू स्क्रब को शामिल करना एक प्रभावी तरीका हो सकता है। स्ट्रॉबेरी, लाल मसूर की दाल, पपीता और मक्के के आटे जैसी सामग्रियों से, आप ऐसे स्क्रब बना सकते हैं जो विभिन्न प्रकार की त्वचा और चिंताओं को पूरा करते हैं, एक प्राकृतिक और रसायन-मुक्त त्वचा देखभाल व्यवस्था सुनिश्चित करते हैं।

यूकेलिप्टस का तेल सेहत और त्वचा के लिए किसी वरदान से नहीं है कम

मोटापे से परेशान लोग रोजाना सुबह पी लें ये एक ड्रिंक, चंद दिनों में दिखने लगेगा असर

लू से बचने के लिए रोज खाएं ये 3 चीज

 

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -