आईपीएल सट्टे की पूछताछ में उलझे अरबाज, होंगे कई खुलासे

सलमान खान के भाई और बॉलीवुड एक्टर अरबाज़ खान इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) से जुड़े सट्टेबाजी के मामले में ठाणे एंटी एक्‍सटॉर्शन सेल में अपना बयान देने पहुंच गए हैं. शुक्रवार को मुंबई (ठाणे) की क्राइम ब्रांच ने अरबाज खान को समन जारी किया था. ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने अरबाज खान को शनिवार तक पेश होने और अपना बयान दर्ज करवाने का वक्त दिया है. एनकाउंटर स्पेशलिस्ट और ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल के सीनियर ऑफिसर प्रदीप शर्मा और पुलिस ऑफिसर राजकुमार कोथमिरे अरबाज खान से पूछताछ कर रहे हैं. बताया जाता है कि सोनू जालान को भी अरबाज खान से पूछताछ के दौरान उनके सामने बुलाया गया है. मामले की जांच टीम में शामिल पुलिस इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा के मुताबिक, सट्टेबाजी रैकेट से सोनू जालान का सालाना टर्नओवर करीब 100 करोड़ है. जालान के नाम पर कई मामले दर्ज हैं. पाकिस्तान, अफगानिस्तान, सउदी अरब, दक्षिण अफ्री समेत कई देशों में उसका सिंडीकेट है. वहीं, भारत में अहमदाबाद, दिल्ली, जयपुर, कोलकाता, चंडीगढ़ में उसका गैंग एक्टिव है.


दरअसल, कुछ दिन पहले ही ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने आईपीएल मैच के दौरान सट्टेबाजी (बेटिंग) के मामले में तीन सटोरियों को गिरफ्तार किया था. उनसे पूछताछ में सट्टा बाजार के नामी बुकी सोनू जालान का नाम सामने आया था, जिसके बाद सोनू जालान को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ में उसने बताया कि बॉलीवुड के कई सेलिब्रिटी बेटिंग में अलग-अलग नामों से पैसा लगाते हैं. जिसके बाद अरबाज़ खान का नाम भी सामने आया. अब इसी मामले में ठाणे क्राइम ब्रांच ने अरबाज खान को पूछताछ के लिए समन भेजा है.


एंटी एक्सटॉर्शन सेल के मुताबिक, सोनू जालान ने कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के बेटिंग के पैसे आईपीएल में लगाए थे और मुनाफा भी कमाया था. साथ ही कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज को ब्लैकमेल कर रहा था कि अगर सोनू जालान को पैसे नही मिले, तो सोशल मीडिया पर उन बॉलीवुड सेलिब्रिटी के नामों को स्टिंग किए गए वीडियोज के साथ एक्सपोज़ कर देगा. ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल के मुताबिक, अभिनेता अरबाज खान ने सोनू जालान के जरिये कुछ समय पहले बेटिंग की थी और करोड़ों रुपये हार गए थे. बुकी सोनू जालान इन पैसों की वसूली के लिए लगातार अरबाज़ खान को ब्लैकमेल कर रहा था. पुलिस के मुताबिक, 42 साल का सट्टेबाज सोनू जालान दाऊद इब्राहिम गैंग का बहुत करीबी है. वह पाकिस्तान और सउदी अरब में रहकर क्रिकेट में सट्टेबाजी करता है. पुलिस ने उसे कल्याण कोर्ट से तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह इसी केस में एक आरोपी से मिलने आया था. सूत्रों के मुताबिक, डी कंपनी के लिए काम करने वाले सोनू मलाड में दो क्रिकेट मैच फिक्स किए थे.

 

इंग्लैंड-पाकिस्तान टेस्ट मैच: 22 साल का इतिहास बदलने का मौका पाक के पास

IPL 2018 समाप्त, लेकिन IPL 2019 ने खड़ा कर दिया ये बड़ा सस्पेंस

भारत ने ताइपे को 5-0 से रोंदा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -