PM मोदी की एक सलाह ने बदली AIRTEL की किस्मत, खुद दिग्गज कारोबारी ने शेयर किया किस्सा
PM मोदी की एक सलाह ने बदली AIRTEL की किस्मत, खुद दिग्गज कारोबारी ने शेयर किया किस्सा
Share:

एशिया के दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी के जियो ने लॉन्च होने के पश्चात् टेलिकॉम की दुनिया में धमाल मचा दिया था. इससे कई टेलिकॉम कंपनियां मार्केट से बाहर हो गई थीं. भारती मित्तल की एयरटेल भी इस खतरे में घिरी थी. किन्तु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सुनील भारती मित्तल की एक मुलाकात उनके लिए गेम चेंजर सिद्ध हो गई. ऐसा हम नहीं बल्कि ये स्वयं सुनील भारती मित्तल का कहना है. जब उनकी कंपनी जियो के आने के पश्चात् संकट में थी तब PM मोदी की एक सलाह ने उनकी जिंदगी बदल दी थी.

दरअसल, भारती ग्रुप के फाउंडर सुनील भारती मित्तल ने मीडिया इंटरव्यू में स्वयं इस बात का खुलासा किया. उन्होंने बताया कि सितंबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई उनकी एक मीटिंग भारती एयरटेल के लिए टर्निंग पॉइंट साबित हुई जो उस वक़्त संकट से जूझ रही थी. मित्तल ने अपने एक इंटरव्यू के चलते बताया कि रिलायंस जियो मुफ्त वॉयस और डेटा सर्विसेज दे रही थी. साथ ही टेलिकॉम रेगुलेटर ने कई फैसलों से भी एयरटेल जैसी पुरानी टेलिकॉम कंपनियों पर प्रतिकूल प्रभाव हुआ था. मित्तल ने कहा, ‘…(सितंबर) 2018 में, मैंने प्रधानमंत्री से मिलने के लिए वक़्त मांगा. मैं तब GSMA का प्रेजिडेंट था तथा अंतर्राष्ट्रीय चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के प्रेजिडेंट पद से अभी-अभी बाहर आया था, जब मैं उन्हें (पीएम को) कभी-कभी WTO, G20 और अन्य मुद्दों पर जानकारी देता था.

मैंने उनसे भारतीय टेलिकॉम इंडस्ट्री के बारे में चर्चा की. मैंने उनसे कहा कि चीजें बहुत खराब चल रही हैं तथा स्थिति बहुत चिंताजनक होती जा रही है.’ वर्ष 2016 में टेलिकॉम मार्केट में प्रवेश करने वाली जियो मुफ्त वॉयस एवं डेटा सर्विसेज दे रही थी. साथ ही ट्राई ने भी कई ऐसे फैसले लिए थे जो मित्तल को लगता था कि एक पक्ष को मदद कर रहे हैं. मोदी के साथ अपनी बैठक को याद करते हुए मित्तल ने कहा कि ‘मैं बाजार में लड़ सकता हूं, किन्तु मैं सरकार से नहीं लड़ सकता.’ मित्तल ने कहा, ‘उन्होंने मुझसे कहा कि यह सरकार किसी भी एक पक्ष की ओर नहीं झुकेगी. देश के लिए जो भी अच्छा होगा, वह किया जाएगा. आप बाजार में लड़ते हैं. इस पर मेरा कोई विचार नहीं है. किन्तु सरकार की तरफ से, आप निश्चिंत हो सकते हैं कि सरकार किसी का पक्ष नहीं लेगी. और मेरे लिए इतना ही काफी था. मैं उठकर उनका शुक्रिया अदा करने लगा… यह (एयरटेल के लिए) एक अहम मोड़ था.’ जिसका ही परिणाम है कि एयरटेल ने 27 मई को 100 अरब डॉलर का मार्केट कैप हासिल किया है.

2019 में एयरटेल का मार्केट कैप तकरीबन 19 बिलियन डॉलर था जो बिजनस में इन्वेस्ट की गई राशि से भी कम थी. किन्तु कंपनी ने बीते 5 सालों में अपने मार्केट कैप में 80 बिलियन डॉलर से ज्यादा जोड़ा है. मित्तल ने आगे इंटरव्यू में कहा कि ‘यह बोलना गलत है कि यह सरकार सिर्फ कुछ लोगों का पक्ष ले रही है. मुझे लगता है कि 100 अरब डॉलर का यह मार्केट कैप केवल मेरी कंपनी का नहीं बल्कि आज भारत की स्थिति का प्रमाण है. इस देश में पैसा आ रहा है, बहुत ज्यादा पूंजी आ रही है, निवेश आ रहे हैं, शेयर बाजार बढ़ रहा है. इतने बड़े वैल्यूएशन एक बहुत ही ठोस नेतृत्व के तहत एक स्थिर, मजबूत और फंक्शनल इकोनॉमी का नतीजा हैं.’

'48 घंटों में फैसला ले लेंगे..', जयराम रमेश ने बताया- कैसे चुना जाएगा INDIA गठबंधन का PM ?

'सविधान हटाकर शरिया लागू करने और हिन्दू नेताओं की हत्या का लक्ष्य..', कोर्ट ने ठुकराई PFI के आतंकी अबूबकर की जमानत याचिका

गुरु अर्जन देव को 4 दिनों तक यातनाएं देता रहा मुगल बादशाह जहांगीर..! आज शहादत दिवस पर देश कर रहा नमन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -