Share:
अमेरिका, भारत से पिछड़ता नजर आने का खतरा मोल नहीं ले सकता - कोट्स
अमेरिका, भारत से पिछड़ता नजर आने का खतरा मोल नहीं ले सकता - कोट्स

वाशिंगटन. बीते दिनों भारत ने बेंगलोर शहर में 104 सेटेलाइट लांच कर रिकॉर्ड कायम किया. इस बारे में चीन ने कहा था कि चीन को भारत पर साइंस और आईटी के मामले पर निर्भर रहना चाहिए. इस बारे में अमेरिका के पूर्व सीनेटर डैन कोट्स ने बताया कि भारत ने एक बार में 104 से अधिक सेटेलाइट की कामयाब लॉन्चिंग कर सबको चौंका दिया. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अमेरिका इससे पिछड़ता नजर आने का खतरा मोल नहीं ले सकता.

यह भी बता दें कि डैन कोट्स अमेरिका की स्पाय एजेंसियों के चीफ की पोस्ट के लिए टॉप नॉमिनी हैं. डैन कोट्स ने मंगलवार को नेशनल इंटेलिजेंस एजेंसी के डायरेक्टर की पोस्ट के लिए सिलेक्शन के दौरान सांसदों से यह बात कही. उन्होंने बताया कि मैं यह पढ़कर दंग रह गया कि भारत ने एक रॉकेट पर 100 से ज्यादा सैटेलाइट्स स्पेस में भेज दिए हैं.

कोट्स ने कहा कि अमेरिका इससे पिछड़ता नजर आने का खतरा मोल नहीं ले सकता. ये सैटेलाइट्स अलग-अलग कामों के साथ साइज में छोटे भी हो सकते हैं, किन्तु एक रॉकेट इन्हें भेज सकता है, यह आश्चर्यजनक है. मुझे लगता है कि उसमें 104 प्लैटफॉर्म थे. बता दे कि अमेरिकी संसद यदि कोट्स के नाम पर मुहर लगाती है तो वह सीआईए समेत देश की सभी बड़ी स्पाय एजेंसियों के इंचार्ज होंगे. इसरो ने 15 फरवरी को एक साथ 104 सैटेलाइट्स लॉन्च कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था. इससे पहले यह रिकॉर्ड रूस के नाम था.

ये भी पढ़े 

अमेरिका ISIS को ख़त्म कर देगा : ट्रंप

अमेरिका में निकले गए श्रीनिवास के लिए शांति जुलूस

अमेरिकी संसद में भारतीय इंजीनियर को श्रद्धांजलि, ट्रंप ने कहा नफरत की निंदा करते है

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -