अरविन्द केजरीवाल का 'झूठ' छिपाने आया था Altnews, जुबैर के प्रोपेगंडा की नेटीजेन्स ने उड़ाई धज्जियाँ

नई दिल्ली: एक तरफ जहाँ ‘आम आदमी पार्टी (AAP)’ खुल कर कश्मीरी हिन्दुओं के नरसंहार और पलायन पर बनी फिल्म ‘The Kashmir Files’ का विरोध कर रही है, वहीं दूसरी और खुद को ‘फैक्ट चेकर’ बताने वाला प्रोपेगंडा पोर्टल AltNews ये झूठ फैलाने में लगा हुआ है कि दिल्ली के सीएम और AAP अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल ने कश्मीरी हिन्दुओं के नरसंहार को कमतर कर के नहीं दिखाया। जबकि हकीकत यह है कि केजरीवाल ने इस फिल्म को ही ‘झूठी’ बता दिया, जो पूर्णतः सच्ची घटनाओं पर आधारित है। यहां, तक कि बॉम्बे हाई कोर्ट में फिल्म की रिलीज़ रोकने की मांग करने वाले वकील इंतज़ार हुसैन भी इसे झूठा न बोल पाए, क्योंकि झूठा साबित करने के लिए कोई तथ्य ही नहीं थे। लेकिन अरविंद केजरीवाल के झूठ को सच साबित करने के लिए प्रोपेगंडा पोर्टल AltNews के मोहम्मद ज़ुबैर काम पर लग गए हैं।   

 

AltNews और उसका कर्ताधर्ता जुबैर ये झूठ फैला रहे है कि अरविंद केजरीवाल के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है। यहां ध्यान देने वाली बात यह भी है कि यहाँ AAP कार्यकर्ता अपने मुखिया के 'झूठी फिल्म' वाले बयान का बचाव नहीं कर रहे हैं, लेकिन खुद को निष्पक्ष  मीडिया संस्थान बताने वाले AltNews ने AAP के झूठ पर पर्दा डालने का जिम्मा उठाया है। AltNews ने दावा किया है कि विधानसभा में दिए गए भाषण में कहीं भी कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचारों को नकारा नहीं गया है। हालांकि, AltNews ने कहीं भी इसका जिक्र नहीं किया है कि कश्मीर में अत्याचार किया किसने ? लेकिन यह भी सच है कि AltNews क्यों कश्मीर में आतंकियों के अत्याचारों को उजागर करेगा? उसका काम तो इसे छिपाना है न, जो पूरा का पूरा इकोसिस्टम बीते 32 सालों से करता ही आ रहा है। AltNews का दावा है कि अरविंद केजरीवाल ने कहीं भी कश्मीरी पंडितों पर अत्याचार को नकारा नहीं, मगर वो ये बताना भूल गया कि इन अत्याचारों को दिखाती फिल्म को ही उन्होंने ‘झूठी’ बताया था।

विधानसभा में केजरीवाल समेत AAP विधायक, वीभत्स नरसंहार और पलायन की सच्ची घटनाओं पर आधारित ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर ठहाके लगाते हुए देखे गए और Altnews वाले कह रहे हैं कि उन्होंने कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार का मजाक नहीं उड़ाया। अरविंद केजरीवाल ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ की बात करते हुए विधानसभा में कहा था, 'आप (भाजपा नेता) एक झूठी पिक्चर के पोस्टर लगाते हुए अच्छे नहीं लगते। ये आपको शोभा नहीं देता।' यही नहीं, इसका वीडियो तो खुद AAP ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया था। और वीडियो के कैप्शन में ये लाइन भी बाकायदा लिखी थी। इसके बाद भी AltNews, किस वजह से यह झूठ फैला रहा है, यह सोचना अब जनता के ऊपर है। वहीं, सोशल मीडिया पर लोग जुबैर से पूछ रहे हैं कि फिल्म पर ठहाके लगाने और इसे यूट्यूब पर डालने की बात कर के उन्होंने क्या कश्मीरी हिन्दुओं पर हुए जुल्म पर जले पर नमक नहीं छिड़का? फिल्म सच्ची नादिमार्ग नरसंहार और बीके गंजू की हत्या, गिरिजा टिक्कू के जघन्य बलात्कार, बिट्टा कराटे के ओरिजिनल इंटरव्यू जैसी सच्ची घटनाओं पर आधारित है। इस पर ठहाके लगाने का क्या अर्थ हो सकता है? 

पिता पर बलात्कार का केस, भाई ने की घरेलु हिंसा.., देखें कश्मीरी महिलाओं की दुर्दशा पर हंसने वाली 'राखी' की फैमिली फाइल्स

'1 नहीं 100 FIR करो, केजरीवाल की नाक में नकेल डाल कर रहूँगा..', केस दर्ज होने पर बोले तजिंदर बग्गा

भगवंत मान को कैसे भेजोगे 'रिश्वतखोरी' के ऑडियो-वीडियो ? सरकारी दफ्तरों में तो मोबाइल की इजाजत ही नहीं

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -