स्मृति इरानी के दखलअंदाजी से परेशान है इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के वीसी

इलाहाबाद : इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हंगलू मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी पर अपनी भड़ास निकाली है। उन्होने इरानी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ईरानी काम में दखलअंदाजी कर रही है। गुस्साए वीसी ने कहा कि यदि ऐसा ही चलता रहा तो वो इस्तीफा दे देंगे।

रतन लाल का कहना है कि जिस प्रकार कामकाज में दखल दिया जा रहा है, उससे यूनिवर्सिटी पीछे की ओर जा रही है। उन्होने कहा कि यदि इतनी ही दखलअंदाजी करनी है, तो उन्हें हटाकर किसी एमपी या एमएलए को वीसी बना दिया जाए। दरअसल रतन लाल चार माह पहले ही इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के वीसी बने है।

उनके कामकाज संभालते ही नए सेशन से सभी एंट्रेंस एग्जाम सिर्फ ऑनलाइन कराए जाने का ऐलान किया गया था। लेकिन छात्रों के विरोध के चलते वीसी ने ग्रेजुएशन क्लासेज में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम ऑन लाइन के साथ ही ऑफलाइन कराए जाने का भी विकल्प दे दिया था।

एग्जाम ऑनलाइन कराए जाने को लेकर चात्रों ने विरोध शुरु कर दिया, जिसे नेताओं का भी साथ मिला। बीजेपी सांसद विनोद सोनकर ने 9 मई को इरानी से मिलकर वीसी की शिकायत की थी। जिसके बाद इरानी ने एंट्रेंस एग्जाम में ऑपलाइन का भी विकल्प दे दिया। इसी से रतन लाल बिफरे हुए है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -