Share:
अजमेर मारपीट मामला: गहलोत सरकार की बड़ी कार्रवाई, IPS सुशील कुमार और IAS गिरधर चौधरी निलंबित
अजमेर मारपीट मामला: गहलोत सरकार की बड़ी कार्रवाई, IPS सुशील कुमार और IAS गिरधर चौधरी निलंबित

जयपुर: राजस्थान के जयपुर-अजमेर राजमार्ग पर 3 दिन पहले एक रेस्टोरेंट में शराब पार्टी और उसके बाद हुई मारपीट के मामले को लेकर राज्य की अशोक गहलोत सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है. राज्य सरकार ने इसमें शामिल IPS अधिकारी सुशील कुमार बिश्नोई और IAS अधिकारी गिरधर चौधरी को सस्पेंड कर दिया है. दोनों के निलंबन के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं. निलंबन काल के दौरान IAS गिरधर चौधरी का मुख्यालय कार्मिक विभाग और IPS सुशील कुमार का हेडक्वार्टर DGP कार्यालय जयपुर रहेगा. इस मामले में अनुचित फेवर करने के इल्जाम में गेगल थाने के तीन पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया गया है. इन आदेशों की प्रशासनिक गलियारे में जमकर चर्चा हो रही है.

रिपोर्ट के अनुसार, कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि दोनों अधिकारियों के खिलाफ विभागीय जांच जारी है. मामले में जिस प्रकार के सबूत जांच के दौरान सामने आए है, उससे सार्वजनिक जीवन में अधिकारियों के व्यव्हार को लेकर कई सवाल खड़े हुए हैं. मंगलवार देर शाम को ही दोनों अधिकारियों को सस्पेंड कर सरकार की तरफ से एक साफ मैसेज प्रदेश के पूरे प्रशासनिक बेड़े को दिया गया है. गहलोत सरकान ने अधिकारियों के गलत आचरण के मामले में जीरो टॉलरेंस की नीति का सन्देश दिया है.

बता दें कि शराब पार्टी और मारपीट की यह घटना 3 दिन पहले 11 जून की रात को अजमेर के गेगल थाना इलाके में स्थित जयपुर-अजमेर हाईवे पर स्थित एक रेस्टोरेंट में आयोजित पार्टी में की गई थी. यह पार्टी IPS सुशील कुमार के ट्रांसफर के बाद की गई थी. सात जून को आई ट्रांसफर लिस्ट में अजमेर हेडक्वार्टर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार को नए बनाए गए जिले गंगापुर में प्रभारी अधिकारी लगाया गया था. उसके बाद सुशील कुमार ने अपने मित्रों के साथ यह पार्टी की थी, इसी दौरान वहां मारपीट और हंगामा हुआ था.

उस पार्टी में अजमेर विकास प्राधिकरण आयुक्त IAS गिरधर चौधरी भी शामिल थे. पार्टी में टोंक जिले के 3 सरकारी कर्मचारी और अन्य लोग शामिल थे. पार्टी के दौरान किसी बात को लेकर उनका रेस्टोरेंट कर्मचारियों से विवाद हो गया. उसके बाद होटल कर्मचारियों से मारपीट कर दी गई थी. अधिकारियों ने बाद में गेगल पुलिस को भी तलब किया और वहां जमकर बखेड़ा हो गया. यह पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरों में दर्ज हो गई थी.

मणिपुर में फिर भड़क उठी हिंसा, 9 लोगों की मौत, 10 घायल

Cyclone Biparjoy: 37000 लोगों का रेस्क्यू, SDRF-NDRF अलर्ट पर, हालात पर मोदी-शाह रख रहे नज़र

ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ 3.75 ट्रिलियन डॉलर की हुई भारतीय GDP, 2014 में 2 ट्रिलियन डॉलर पर थे हम

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -