'जन्नत जाँऊगा, हूरें मिलेंगी...', हिन्दू लड़कियां ही थीं 'आफताब' का टारगेट, पॉलीग्राफ टेस्ट में सब उगला

नई दिल्ली: दिल्ली की श्रद्धा वॉकर की नृशंस हत्या करने के लिव-इन पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला ने पालीग्राफ टेस्ट के दौरान हैरान कर देने वाले खुलासे किए हैं। अब तक आफताब पुलिस की पूछताछ में क़त्ल को गुस्से में उठाया गया कदम बताता रहा है। लेकिन, हालिया पूछताछ में आफताब की कट्टर मानसिकता खुलकर सामने आ गई है। एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी है कि पूछताछ के दौरान आफताब ने कहा है कि श्रद्धा के कत्ल के आरोप में उसे फांसी भी हो जाए, तो भी अफसोस नहीं, क्योंकि जन्नत में हूरें मिलेगी। साथ ही आफताब ने यह भी खुलासा किया है कि श्रद्धा से रिश्ते के दौरान 20 से अधिक हिंदू लड़कियों से उसके संबंध रहे हैं।

आफताब को किसने दिया जन्नत और हूरों का ज्ञान ?

हालाँकि, आफताब के इस बयान से बड़ा सवाल ये उठता है कि, उसके ऐसे कौन से अच्छे कर्म थे, जो वह जन्नत की उम्मीद पाल रहा है ? क्या केवल हिन्दू लड़कियों को फंसाकर उनके साथ संबंध बनाने मात्र से ही उसे जन्नत मिल सकती थी ? ये ज्ञान उसे किसने दिया होगा कि, हिन्दू लड़कियों को फंसाकर उनकी भावनाओं और जिस्मों के साथ खेलकर, यहाँ तक कि, उनकी हत्या भी करने के बाद उसे जन्नत यानी स्वर्ग मिल सकता है और वहां बैठा परमेश्वर उसे भोगने के लिए हूरें देगा ?  क्योंकि, इस तरह की बातें हमने आज तक जैश, या लश्कर जैसे आतंकी संगठनों के खूंखार आतंकियों से ही सुनी हैं, जो जन्नत और हूरों के लिए निर्दोषों के बीच छाती पर बम बाँधकर फट जाते हैं 

चुन-चुनकर हिन्दू लड़कियों को शिकार बनाता था आफताब :-

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधिकारी ने बताया है कि आफताब ने खुलासा किया कि वह 'बंबल एप' पर ख़ास कर हिंदू लड़कियों को खोजता था, और उन्हें अपना शिकार बनाता था। दरिंदे आफताब ने बताया कि, श्रद्धा की हत्या के बाद वह एक मनोविज्ञानी को अपने रूम पर लेकर आया  था, वह भी हिंदू ही थी। इस हिन्दू लड़की को उसने श्रद्धा की अंगूठी तोहफे में देकर अपना शिकार बनाया था, इसके साथ ही उसने अन्य कई हिंदू लड़कियों को भी इस तरह शिकार बनाया है। आफताब को श्रद्धा का क़त्ल  करने का कोई दुख नहीं है। उसे श्रद्धा के शव के टुकड़े कर फेंकने का जरा भी अफसोस नहीं है। 

श्रद्धा की हत्या का आफताब को कोई पछतावा नहीं :-

बता दें कि कातिल आफताब जब तक रिमांड पर था, तो वह पुलिस को निरंतर गुमराह कर रहा था और उसके चेहरे पर अपने किए का कोई पछतावा नहीं थी। पूछताछ खत्म हो जाने पर वह जेल के अंदर भी चैन की नींद सोता था। शायद उसके मन में यही चलता होगा कि, उसे तो फांसी के बाद भी मरने पर जन्नत और हूरें मिलने वाली हैं, इसलिए वह निश्चिन्त था। पुलिस के अनुसार, पालीग्राफ टेस्ट में आफताब ने कुछ ऐसे हैरतअंगेज़ सच उगले हैं, जो बेहद चौंकाने वाले हैं। पुलिस अब आफताब का नार्को टेस्ट भी करना चाहती है। पुलिस ने आफताब के घर से 5 चाकू बरामद किए थे।

केंद्र ने SC कॉलेजियम को लौटाई Gay वकील सहित 19 नामों की फाइल, कहा- पुनर्विचार करें

जम्मू कश्मीर में कहर बरपाने लगी ठंड, पूरी घाटी में तापमान 'शून्य' से नीचे

श्रद्धा के 35 टुकड़े करने वाले आफताब की सुरक्षा में BSF तैनात ! हमले पर हिन्दू सेना ने दिया बयान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -