राष्ट्रपति ने ख्वाजा की दरगाह पर जियारत की

अजमेर/पुष्कर/ जयपुर : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज सोमवार को अपनी पत्नी सविता और बेटी स्वाति के साथ महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह जियारत की. उन्होंने गरीब नवाज की मजार पर मखमल की खूबसूरत चादर और अकीदत के फूल पेश कर देश में अमन व खुशहाली की दुआ की.

आपको बता दें कि राष्ट्रपति दो दिन के राजस्थान प्रवास पर हैं.राष्ट्रपति कोविंद ने सुबह 11 बजे ब्रह्म घाट पर सरोवर की पूजा-अर्चना की उनकी सुरक्षा व्यवस्था के कारण सरोवर के चारों ओर बने सभी 52 घाटों पर सुबह 8 बजे से लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया था .इसी कारण आम जन के लिए ब्रह्मा मंदिर के कपाट सुबह से बंद रहे. आम श्रद्धालु राष्ट्रपति की यात्रा के बाद ही मंदिर के दर्शन कर सके.

उल्लेखनीय है कि इसके बाद राष्ट्रपति कोविंद का दरगाह में दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन खादिमों और दरगाह नाजिम आई बी पीरजादा आदि ने जोरदार स्वागत किया.रिवाज के मुताबिक राष्ट्रपति कोविंद के निजाम गेट की पहली सीढ़ी पर कदम रखते ही शादियाने बजाए गए.बाद में राष्ट्रपति बुलंद दरवाजे होते हुए रेड कारपेट पर ही बेगमी दालान से आस्ताना शरीफ पहुंचे. वे चादर व फूलों की टोकरी लिए थे. बाद में हफ्त बारीदारान के सात प्रतिनिधियों ने राष्ट्रपति का स्वागतकर उन्हें सिपासनामा पेश किए गए और शॉल ओढा कर स्मृति चिह्न भेंट किए गए.

यह भी देखें

राष्ट्रपति का राजस्थान आगमन आज

राजस्थान में भीषण गर्मी से त्राहि -त्राहि

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -