Share:
उत्तर पश्चिमी चीन में पाया गया अब तक का सबसे पूरा मकबरा
उत्तर पश्चिमी चीन में पाया गया अब तक का सबसे पूरा मकबरा

चीन के पुरातत्वविदों ने उत्तर पश्चिम चीन के झिंजियांग उइगुर स्वायत्त क्षेत्र के कजाक स्वायत्त प्रान्त में नील्का काउंटी में एक प्राचीन मकबरे की जांच करते हुए अनुमान लगाया है कि यह स्थल सूर्य की पूजा के लिए बनाया गया था। परियोजना के नेता रुआन कियुरॉन्ग ने कहा- "किरण जैसा पैटर्न सूर्य की पूजा का संकेत दे सकता है"। उन्होंने कहा, "झिंजियांग और यूरेशियन घास के मैदान के अन्य हिस्सों में अवशेष साइटों में इसी तरह के पैटर्न पाए गए हैं।"

एक उत्खनन परियोजना जो पिछले साल फिर से शुरू हुई, उन्होंने मकबरे के साथ पत्थरों की 17 पंक्तियों की खोज की, एक पैटर्न बनाया जो सूरज की किरणों जैसा दिखता है। कब्र कक्ष के नीचे और बाहरी भाग को लाल मिट्टी से ढंक दिया गया था, जो सूर्य की उपासना की ओर भी इशारा करता है। उन्होंने कहा कि मकबरे के जटिल ढांचे के कारण हम यह अनुमान लगा सकते हैं कि मालिक उच्च सामाजिक स्थिति के थे।

वर्ष 2015 में, Ili के कज़ैक ऑटोनॉमस प्रीफेक्चर में निल्का काउंटी में कब्र मिली। चीनी समाचार एजेंसी ने रिपोर्ट दी है कि इससे पहले झिंजियांग रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ कल्चरल रिलिक्स एंड आर्कियोलॉजी की एक पुरातत्व टीम द्वारा कब्र में मिट्टी के बर्तनों और पत्थर के औजारों की खुदाई की गई थी, जिससे शोधकर्ताओं को लगभग 3,500 साल पहले की तारीख में मदद मिली थी। पुरातत्व विशेषज्ञों का कहना है कि कब्र शिनजियांग में सामाजिक परिस्थितियों और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के अध्ययन के लिए महत्वपूर्ण शोध सामग्री प्रदान करती है जो 3,000 से अधिक वर्षों से पहले की है।

30 वर्षीय तलाकशुदा महिला से 17 साल के लड़के को हुआ प्यार, छोड़ दिया घर-बार और फिर...

रिलायंस यहाँ बना रही है विश्व का सबसे बड़ा चिड़ियाघर, होगा बहुत ही खास

ये है दुनिया का सबसे हैंडसम और स्मार्ट मैथ टीचर, जिसका हर कोई है दीवाना

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -