आखिर क्यों 16 साल की उम्र को कहते है बाली उम्र

आखिर क्यों 16 साल की उम्र को कहते है बाली उम्र
Share:

नई दिल्ली: 16 साल की उम्र, वह उम्र होती है जिसमे बच्चो को हर चीज के बारे में नया ज्ञान होता है और वह उसे महसूस भी करना चाहता है. 16 साल में ज़्यादातर बच्चे 11 कक्षा में प्रवेश करते, और यह वही टाइम होता हैं जिसमे बच्चे घर से बाहर निकलते है, इस दौरान उन्हें काफी लोग मिलते है अच्छे दोस्त बनते है यही वह उम्र होती जिसमे पहले प्यार का अहसास होता है. 
 
लेकिन क्या कभी किसी ने सोचा की बच्चे अपने इस सबसे खूबसूरत एहसास को अपने माता-पिता या घर के किसी सदस्य के साथ क्यों शेयर नहीं करते, बच्चो की ज़िंदगी में अहम रहने वाले उनके माता-पिता, भाई-बहन क्यों इस बात से अनभिज्ञ रहते है, तो ज़रा आप इस बात पर गौर करिएगा जो अब में आपसे आगे कहने जा रही हूँ. दरअसल बच्चे 16 साल की उम्र से पहले या यूं कहिए की 10वी क्लास तक वह सिर्फ वही देखते है जो हम उन्हें दिखाना चाहते है, लेकिन बच्चे जैसे ही घर से बाहर पैर रखते हैं तो उन्हें कई लोग नज़र आते है. जहा उन्हें फिल्मो की तरह स्पेशल फील भी करवाया जाता है 

वही बच्चे अपनी इस तरह की फीलिंग को जब किसी घर वाले से शेयर करते है तो उन्हें डाट कर चुप करा दिया जाता है, जिसके बाद से बच्चे अपनी बाते परिवार के सदस्यों से करने में कतराते है, और धीरे-धीरे अपने घर वालो से दूर और दूसरे शख्स से करीब होते जाते है. ऐसी स्थिति ना हो उसके लिए घर के सदस्यों को यह ध्यान रखने की ज़रूरत है कि जब भी बच्चा आपसे बात करने आए तो आप उनकी पूरी बात सुने साथ ही उससे संबंधित राय भी दे.  
 

पोस्टल सर्कल में 8 वी पास वालो के लिए निकली भर्ती

इतनी आसानी से सिख सकते है विदेशियों की तरह 'इंग्लिश' बोलना

राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के 11 पदों पर निकली भर्ती

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -