भोपाल में हैवी व्हीकल बनने से 10 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

Dec 07 2018 05:52 PM
भोपाल में हैवी व्हीकल बनने से 10 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

भोपाल: स्वीडिश कंपनी वॉल्वो भारतीय ऑटोमोबाइल कंपनी आयशर के साथ ज्वाइंट वेंचर में भोपाल में 40 हजार हैवी व्हीकल ट्रक और बस बनाएगी। जानकारी के अनुसार बता दें कि कंपनी ने पिछले दिनों भोपाल के नजदीक औद्योगिक क्षेत्र में प्लांट का भूमिपूजन भी कर दिया है। वहीें माना जा रहा है कि कंपनी अप्रैल 2020 से प्लांट में उत्पादन शुरू कर देगी। इस प्लांट के लिए आयशर-वॉल्वो का ज्वाइंट वेंचर 400 करोड़ रुपए का निवेश कर रहा है।

तीन महीने की बच्ची को छोड़कर भागी मां, पिता ने किया कुछ ऐसा

यहां बता दें कि भोपाल में स्थापित हो रहे प्लांट से करीब 10 हजार लोगों को रोजगार मिलने का अनुमान है। वहीं दोनों कंपनियों की यह योजना करीब चार साल पुरानी है। इसके साथ ही कंपनी को प्लांट लगाने के लिए भोपाल के पास डेढ़ सौ एकड़ जमीन दी गई है। अब तक यह प्रोजेक्ट सिर्फ कागजों में चल रहा था। सरकार द्वारा कंपनी को जमीन भी काफी समय पहले दे दी गई थी।

चुनावो से पहले फेसबुक ने किये ये अहम बदलाव

गौरतलब है कि आचार संहिता के दौरान कंपनी ने प्लांट के लिए भूमिपूजन कर प्लांट स्थापित करने का काम शुरू कर दिया है। प्लांट को स्थापित करने में करीब डेढ़ साल का वक्त लगेगा। अप्रैल 2020 से इस प्लांट में हैवी ट्रक और बस बनना शुरू हो जाएंगे। इस प्लांट की क्षमता करीब 40 हजार हैवी व्हीकल बनाने की होगी। वहीं बता दें कि आयशर-वॉल्वो के ज्वाइंट वेंचर का एक प्लांट मप्र में ही पहले से चल रहा है। यह प्लांट पीथमपुर में संचालित है और यहां करीब 90 हजार हैवी व्हीकल बनाने की क्षमता है। 


खबरें और भी

नोबल विजेता ने कहा कैंसर कभी नहीं होगा खत्म

नए मुख्य आर्थिक सलाहकार होंगे डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन

स्टरलाइट विरोधी प्रदर्शन: मद्रास हाई कोर्ट के आदेश पर स्टे लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इंकार