News Trending

जनहित के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दें

Mar 20 2017 11:00 PM

उज्जैन| सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में कोई भी शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अधिकारी जनहित के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। आम जनता किसी भी हालत में परेशान नहीं हो, उसे अपने काम के लिए भटकना नहीं पड़े। यह निर्देश केन्द्रीय मंत्री श्री थावरचंद गेहलोत तथा सांसद डॉ. चिन्तामणी मालवीय ने आयोजित जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में दिए।

सिंहस्थ मेला कार्यालय में आयोजित इस बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री महेश परमार, विधायक डॉ. मोहन यादव, श्री अनिल फिरोजिया, कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे, प्रभारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.एस.रावत, अपर कलेक्टर श्री नरेन्द्र सूर्यवंशी, विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में उज्जैन जिले में संचालित स्वच्छता अभियान के तहत शौचालयों के निर्माण की समीक्षा की गई। जिले की 609 ग्राम पंचायतों में से 606 ग्राम पंचायतें ओडीएफ हो चुकी है। केन्द्रीय मंत्री श्री गेहलोत ने नागदा शहर में शौचालय निर्माण से वंचित कुछ क्षेत्रों की जानकारी देते हुए निर्माण के निर्देश दिये। सांसद डॉ मालवीय ने भी ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर शौचालय नहीं होने की जानकारी देते हुए शौचालय निर्माण की ताकद की।

विधायक डॉ. मोहन यादव ने उज्जैन के अक्षय नगर सहित कुछ क्षेत्रों में शौचालय नहीं होने की बात करते हुए निर्माण के लिए कहा। सांसद डॉ. मालवीय ने शौचालय निर्माण के पश्चात अनुदान नहीं मिलने की शिकायतों की जानकारी देते हुए खातों में अनुदान जमा करवाने के निर्देश दिये।

म.प्र. रोजगार निर्माण (बोर्ड का प्रथम दिवसीय) मेला सम्पन्न

उज्जैन के पास मैजिक और कार की टक्कर में 6 लोगों की मौत