निवेश के बिना नहीं हो सकता विकास : राजे सरकार

May 02 2015 09:43 AM
निवेश के बिना नहीं हो सकता विकास : राजे सरकार

जयपुर : राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि प्रदेश का विकास करना है तो हमें निवेश लाना ही होगा। उन्होंने कहा कि 60 साल तक इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया जबकि पूरी दुनिया मानती है कि जब तक निवेश नहीं आएगा, तब तक किसी भी देश और प्रदेश का सर्वांगीण विकास संभव नहीं है। निवेश आने से ही लोगों को रोजगार मिलेगा और प्रदेश की इकॉनोमी भी बढ़ेगी।

राजे शुक्रवार को झालावाड़ में वल्लभ पित्ती समूह के कॉटन यार्न प्रोजेक्ट के भूमि पूजन के बाद विशाल आमसभा को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि विकास के लिए शिक्षा जितनी जरूरी है, उतना ही निवेश भी आवश्यक है, क्योंकि निवेश आएगा तभी हमारे पढ़े-लिखे और शिक्षित युवाओं को रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा, "हमने 15 लाख युवाओं को रोजगार देने का जो वादा किया था, उसे हम अवश्य पूरा करेंगे।

अब तक हमने करीब पौने दो लाख युवाओं को निजी एवं सरकारी क्षेत्र में नौकरियां दे दी हैं।" राजे ने अधिकारियों एवं राज्य में आने वाले निवेशकों से कहा कि वे यहां की जनता को फूल की तरह रखें, वो भी मेहनत करने में अपनी ओर से कोई कमी नहीं रखेगी। उन्होंने कहा कि सुराज संकल्प यात्रा के दौरान मुझे बिजली, पानी, सड़क, डॉक्टर, टीचर और रोजगार के साथ-साथ राजस्व संबंधी लंबित मामलों की शिकायतें मिलीं थीं।

उसी वक्त हमने सोच लिया था कि सरकार आने पर हमारा इन समस्याओं के समाधान पर विशेष ध्यान रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा, "हमारी सरकार ने अपनी घोषणा के मुताबिक आने वाली 11 मई से प्रदेश में रेवेन्यू कैम्प शुरू करने का निर्णय लिया है। यह कैम्प ग्राम पंचायत मुख्यालय पर लगेंगे, यहां राजस्व संबंधी मामले आपसी समझाइश से निपटाए जाएंगे। राज्य में पंचायतों के साथ मिलकर हेल्थ कैम्प भी लगाए जाएंगे।" मुख्यमंत्री ने कहा कि रिवर बेसिन अथॉरिटी के चैयरमेन की नियुक्ति एक-दो दिन में ही हो जाएगी, जिससे नदियों को जोड़ने की योजना को और गति मिलेगी।