चौटाला को पैरोल दिए जाने मामले में टकराव, नहीं मिली फाइल
चौटाला को पैरोल दिए जाने मामले में टकराव, नहीं मिली फाइल
Share:

नई दिल्ली : पूर्व राज्यसभा और लोकसभा के सदस्य ओम प्रकाश चौटाला को पैरोल दिए जाने के संबंध में एक बार फिर से टकराव का माहोल खड़ा गया। वही दूसरी और दिल्ली सरकार ने दावा किया है कि पैरोल संबंधित फाइल को वापस कर दिया गया है। इधर देर शाम उपराज्यपाल नजीब जंग के कार्यालय से जारी हुए एक स्पष्टीकरण में साफ किया गया है कि ओपी चौटाला को वापस पैरोल दिए जाने के संबंध में कोई फाइल उपराज्यपाल सचिवालय को नहीं मिली है।

मिली जानकारी के अनुसार उपराज्यपाल के पास पैरोल के लिए चिकित्सा के आधार पर पैरोल का आग्रह किया था। इसके बाद उन्होंने 4 अप्रैल से 5 मई तक पैरोल का फायदा भी उठाया था। बाद में इसकी अवधि 28 मई 2015 तक बधाई गई थी। इसके बाद 3 मई को चौटाला ने आत्म सम्पर्ण कर दिया था।

बता दे की इसके बाद 5 अक्तूबर 2015 को उनके पैरोल आवेदन को इसलिए अस्वीकार कर दिया गया था क्योंकि किसी भी पैरोल के लिए तारीख की अवधि में कम से कम 6 माह का अंतराल होना ज़रूरी है। इसके चलते उपराज्यपाल कार्यालय ने स्पष्टीकरण दिया है कि इसके बाद सचिवालय को इस प्रकार का कोई भी आवेदन पुनः नही मिला है।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -