वांग जिआनलिन बने एशिया के धन कुबेर, 2 लाख 40 हजार करोड़ रु है संपत्ति

May 07 2015 03:37 AM
वांग जिआनलिन बने एशिया के धन कुबेर, 2 लाख 40 हजार करोड़ रु है संपत्ति

बीजिंग : डालियन वांडा ग्रुप कॉर्पोरेशन लिमिटेड के फाउंडर वांग जिआनलिन एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। उन्होंने अलीबाबा फाउंडर जैक मा और हचिसन वैम्पोओ के ली का-शिंग को पीछे छोड़ दिया है। ब्लूमबर्ग खबर की फ्रेश रैंकिंग के मुताबिक, वांग जिआनलिन की कुल संपत्ति 38.6 बिलियन डॉलर (करीब 2 लाख 40 हजार करोड़) हो गई है। ऐसा डालियन वांडा कमर्शियल प्रॉपर्टीज के शेयर्स में 0.46 प्रतिशत का उछाल आने के कारण हुआ है। वर्ष 2015 के आरम्भ से लेकर वर्तमान समय तक उनकी कंपनी की नेट वर्थ में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। 

डालियन वांडा समूह का कारोबार रिटेल, बैंक, मीडिया आउटलेट और टूरिज्म जैसे सेक्टर्स में है। जिआनलिन वांडा डिपार्टमेंट स्टोर की श्रृंखला चलाते हैं। वे चाइना टाइम्स मीडिया कंपनी के भी मालिक हैं। वांग दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में 10वें पायदान पर पहुंच गए हैं। अलीबाबा ग्रुप के चेयरमैन जैक मा 34.9 बिलियन डॉलर (करीब 2 लाख 14 हजार करोड़ रुपए) कीमत की संपत्ति के साथ एशिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। उनकी कंपनी की नेट वर्थ में मंगलवार को 0.71 की कमी आई। 

वांग जिआनलिन 1989 में शीगैंग रेसिडेंशियल डेवलपमेंट के जनरल मैनेजर बने। वे जिआंगयिन स्थित एक फैक्ट्री के प्रमुख भी रहे। 1992 में उन्होंने डालियन वांडा ग्रुप में जनरल मैनेजर पद की कमान संभाली। 1993 में वे इसी कंपनी में सीईओ बन गए। कंपनी की संपत्ति चीन में 90 लाख तीन हजार वर्ग मीटर की इन्वेस्टमेंट प्रॉपर्टी, 58 वांडा शॉपिंग प्लाजा, 15 लग्जरी होटल्स, 68 सिनेमाघर, 57 डिपार्टमेंटल स्टोर्स, 54 कराओके सेंटर्स हैं। एएमसी थिएटर्स को खरीदने के बाद यह कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी थिएटर कंपनी मालिक बन गई।