वैट संग्रह मामले में दिल्ली सरकार ने बनाया रिकॉर्ड
वैट संग्रह मामले में दिल्ली सरकार ने बनाया रिकॉर्ड
Share:

नई दिल्ली : हाल ही में जानकारी में यह बात सामने आई है कि दिल्ली सरकार के व्यापार एवं कर विभाग के द्वारा इस वर्ष के दौरान वैट संग्रह को लेकर एक नया रिकॉर्ड बनाने का दावा पेश किया गया है. इस मामले में सरकार ने यह कहा है कि चालू वित्त वर्ष में 25 मार्च तक 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक का वैट संग्रह करने का काम किया गया है. जबकि इसके साथ ही यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि यह और भी अधिक बढ़ सकता है.

मामले में ही वैट आयुक्त सज्जन सिंह यादव का यह कहना है कि बीते वित्त वर्ष के मुकाबले इस वर्ष के दौरान वैट संग्रह में अब तक 2 हजार करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है. इसके साथ ही जानकारी में यह भी बता दे कि चालू वित्त वर्ष में 11 फीसदी का इजाफा हुआ है जबकि साथ ही यह भी बता दे कि बीते वर्ष के दौरान मात्र 2 फीसदी का इजाफा हुआ था.

बता दे कि यह उपलब्धि इस मायने में सराहनीय है कि कई राज्यों में चालू वित्त वर्ष में नकारात्मक वृद्धि दर्ज की गई है. साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि वैट संग्रह में रिकॉर्ड वृद्धि व्यापार व कर विभाग द्वारा उठाए गए कई उपायों के कारण संभव हो पाई है. जानकारी में ही यह बात भी सामने आई है कि डेटा का विश्लेषण और कर बकाएदारों की पहचान के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया गया है.

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -