यूको बैंक के सकल NPA में सबसे अधिक बढ़ोतरी

By Hitesh Songara
Oct 05 2015 12:43 PM
यूको बैंक के सकल NPA में सबसे अधिक बढ़ोतरी

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में यूको बैंक ने गैर निष्पादित आस्तियों (NPA) के मामले में काफी ख़राब प्रदर्शन किया है. आपको बता दे कि पिछले वित्त वर्ष में टोटल ऋण के मामले में बैंक के सकल गैर निष्पादित आस्तियों में सबसे अधिक इजाफा देखने को मिला है. बताया जा रहा है कि घरेलू मार्केट के परिचालन के तहत RBI के अस्थायी आंकड़ों को देखते हुए मार्च 2015 तक यूको बैंक (कोलकाता) का सकल ऋण पर सकल NPA का अनुपात भी बढ़कर 8.05 फीसदी हो गया था जबकि यह पिछले वित्त वर्ष के दौरान 4.47 फीसदी देखने को मिला था. यानी कि आंकड़ों को देखे तो सकल NPA में सालाना आधार पर 3.58 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है.

वहीँ बात करें इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB) और बैंक आफ महाराष्ट्र (BOM) की तो इनका सकल NPA बढ़कर क्रमश: 8.30 फीसदी और 6.18 फीसदी पर देखने को मिला है. साथ ही आपको यह भी बता दे कि IOB और BOM के सकल NPA में क्रमशः 3.46 फीसदी और 3.02 फीसदी का इजाफा हुआ है. गौरतलब है कि सरकार के द्वारा इसी वित्त वर्ष के दौरान सरकारी बैंकों को 25 हजार करोड़ का पूंजी निवेश दिया जा रहा है. मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यह कहा था कि गैर निष्पादित आस्तियां एक चिंता का विषय साबित हो रहा है लेकिन हमें इससे डरने की जरुरत नहीं है.