10 फ़ीट गहरे गड्ढे में अखाडा प्रमुख साध्वी त्रिकाल भवंता

उज्जैन: उज्जैन नगरी में जारी सदी के सबसे बड़े आध्यात्मिक कुम्भ मेले के दौरान परी अखाड़े की प्रमुख साध्वी त्रिकाल भवंता समाधी लेने के लिए 10 फ़ीट गहरे गद्दे में उतर गयी थी, वह प्रशासन की सुविधाओं से आहत थी, घटना के बाद पुलिस प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और साध्वी को आश्वासन देते हुए 24 घंटे के भीतर समस्या का समाधान करने का वादा किया गया है, जिसके बाद साध्वी त्रिकाल भवंता गद्दे से बहार आ गयी है, 

दरअसल पारी अखाड़े की प्रमुख साध्वी त्रिकाल भवंता का कहना है की, कोर्ट के निर्देश के बावजूद उनके अखाड़े को दुसरे अखाड़ों के सामान अधिकार एवं सुविधाए प्राप्त नहीं हो पा रही है, इसी वजह से आहत हो कर साध्वी ने रंजीत हनुमान मंदिर के पास स्थित अपने शिविर में ही 10 फ़ीट गहरा गद्दा खुदवा कर उसमे समाधी लेने के लिए उतर गयी थी, 

पूरे मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे है, उन्होंने साध्वी त्रिकाल भवंता से 24 घंटे का समय माँगा है, जिसके बाद परी अखड़ा प्रमुख साध्वी  त्रिकाल भवंता गद्दे से बहार आ गयी है, लेकिन उनका कहना है की अगर तय समय में उनकी मांगे पूरी नहीं की गयी तो वह दुबारा समाधी ले लेंगी, 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -