IPL 2018: चेन्नई के फाइनल में पहुंचने के यह थे मुख्य कारण

आईपीएल 2018 जिसे रोमांच का दूसरा नाम कहे तो कोई गलत बात नहीं होगी. आईपीएल अब अपने अंतिम मैच की ओर आ गया जिसमें आज चेन्नई सुपर किंग्स मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ेंगे. आईपीएल के इस सीजन में वैसे तो कई शानदार रिकार्ड्स देखने को मिले वहीं कुछ टीमें अपनी खासियत के दम अपने प्लेऑफ में आई वहीं हारने वाली टीमों के खिलाड़ियों ने कई मौकों पर काफी शानदार प्रदर्शन किया, इस बीच एक नजर डालते है चेन्नई सुपर किंग्स के कुछ ख़ास रिकार्ड्स पर जिनकी बदौलत उन्होंने यहाँ तक का सफर तय किया है. 

इस सीजन में आठों टीमों में बेस्ट बैटिंग साइड पर नजर डाले तो सबसे पहला नाम चेन्नई का ही आता है. चेन्नई का इस टूर्नामेंट में  35.04 प्रति विकेट का औसत है जो दूसरी टीमों से कई ज्यादा है.इसका मतलब है चेन्नई के टोटल स्कोर पर नजर डाले तो प्रति बल्लेबाज के लिए औसत स्कोर है. वहीं चेन्नई इस सीजन में एक मात्र ऐसी टीम है जिसने 180 से अधिक के स्कोर भी चेस किए है. 

इस लिहाज से देखा जाए तो चेन्नई का इस फाइनल के लिए पलड़ा भारी नजर आ रहा है वहीं कप्तान के तौर पर महेंद्र सिंह धोनी का भी फाइनल के मैचों में काफी अच्छा प्रदर्शन रहा है. अब परिणाम तो मैच के बाद ही पता चलेगा कि ख़िताब पर कौन सी टीम कब्ज़ा करती है.

विराट के चोटिल होने पर खुश है हरभजन, देखें क्या कहा..

IPL 2018:...तो फाइनल में चेन्नई की जीत पक्की

IPL 2018: ये खिलाड़ी होंगे खिताबी जंग में आमने-सामने

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -