हेलिकॉप्टर क्रैश में ईरानी राष्ट्रपति और विदेश मंत्री के बचने की उम्मीद नहीं, अजरबैजान की पहाड़ियों में मिला मलबा
हेलिकॉप्टर क्रैश में ईरानी राष्ट्रपति और विदेश मंत्री के बचने की उम्मीद नहीं, अजरबैजान की पहाड़ियों में मिला मलबा
Share:

रविवार (19 मई, 2024) को ईरान के राष्ट्रपति इब्राहीम रईसी को एक आयोजन से वापस लेकर आ रहा एक हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया। यह हादसा ईरान के पूर्वी अज़रबैजान प्रांत में हुआ। हादसे के बाद से राष्ट्रपति रईसी के विषय में कोई जानकारी नहीं है। उनकी मौत की आशंका व्यक्त की जा रही है। प्राप्त खबर के मुताबिक, राष्ट्रपति रईसी पूर्वी अजरबैजान प्रांत में एक बाँध का उद्घाटन करने गए थे। उनके साथ ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दोल्लाहियान भी थे। इसके अतिरिक्त और भी दो महत्वपूर्ण नेता राष्ट्रपति रईसी के साथ थे। हेलीकॉप्टर में कुल 9 लोग थे। राष्ट्रपति रईसी के काफिले में दो और हेलीकॉप्टर थे, जो कि सुरक्षित रूप से पहुँच गए।

रईसी के हेलीकॉप्टर के साथ हादसे की सूचना के बाद सेना सहित राहत बचाव टीमें उन्हें ढूढ़ने में लग गईं। रईसी के हेलीकॉप्टर की लोकेशन बहुत वक़्त तक ढूंढी नहीं जा सकी। हालाँकि, कई घंटों की मेहनत के पश्चात् हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने वाली जगह तक टीमे पहुँच पाई। बताया गया है कि जहाँ हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ, वहाँ घना कोहरा था तथा कुछ भी दिख नहीं रहा था। ईरान की सरकार ने राष्ट्रपति रईसी के गायब होने की खबर के पश्चात् देशवासियों से उनकी सुरक्षा के लिए प्रार्थना करने की अपील की थी। राजधानी तेहरान सहित देश की तमाम मस्जिदों में राष्टपति रईसी के लिए नमाज पढ़ी जा रही है।

बताया गया है कि कुछ टीमें हेलीकॉप्टर के दुर्घटना ग्रस्त होने वाले स्थान पर पहुँची हैं तथा उन्हें यहाँ कोई भी जीवित नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि हेलीकॉप्टर पूरी तरह जल चुका है। हेलीकॉप्टर तक पहुँचने के लिए तुर्की के एक ड्रोन का सहारा लिया गया, जिसमें एक जगह से धुआँ उठता नजर आता है। दुर्घटनास्थल पर पहुँची राहत बचाव टीमों ने बताया है कि राष्ट्रपति के हेलीकॉप्टर का पूरा केबिन गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हुआ है। किसी के भी जीवित बचने की सम्भावना दिखाई नहीं दे रही है। शवों के विषय में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। अभी आधिकारिक रूप से रईसी तथा उनके विदेश मंत्री की मृत्यु या घायल होने के विषय में कोई पुष्टि नहीं की गई है।

बताया गया कि रईसी का जो हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ है, वह बेल कम्पनी द्वारा निर्मित 212 मॉडल था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 1979 के पश्चात् ईरान पर जारी प्रतिबंधों की वजह से नए कोई हेलीकॉप्टर ईरान को नहीं मिल सकते थे, ऐसे में यह हेलीकॉप्टर बहुत पुराना हो सकता है। रईसी 2021 में ईरान के राष्ट्रपति बने थे तथा उनकी भूमिका गाजा में युद्ध छिड़ने के बाद से और भी अहम मानी जा रही थी। रईसी की आयु 63 वर्ष थी तथा राष्ट्रपति बनने से पहले वह ईरान में की महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। वह ईरान की न्यायपालिका में ख़ासा दखल रखते हैं। रईसी को ईरान के सुप्रीम लीडर अयातोल्लाह खामनेई का उत्तराधिकारी माना जाता है, ईरान में सुप्रीम लीडर ही सर्वोच्च्च होता है तथा उसे राष्ट्रपति से भी ज्यादा शक्तियाँ प्राप्त हैं। रईसी के साथ हुए हादसे के बाद भारत के पीएम नरेन्द्र मोदी ने भी संवेदना प्रकट की है।

एक्शन में CM मोहन यादव, अब उठाए ये बड़े कदम

पेट्रोल डालकर कलेक्टर ऑफिस में लगाई आग, CCTV में दिखे 2 आरोपी

आत्महत्या करने से पहले ‘औरत’ बना लड़का! इस हाल में मिला शव

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -