प्रधानमंत्री के दौरे से पहले सीमा व्यापार के नियम शिथिल करने का प्रयास

May 03 2015 12:21 PM
प्रधानमंत्री के दौरे से पहले सीमा व्यापार के नियम शिथिल करने का प्रयास

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी समय में चीन दौरे के लिए जा सकते हैं, ऐसे में भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चीन दौरे से पहले चीन के साथ सीमा व्यापार को लेकर नियमों को शिथिल बनाने में लगा हुआ है। सीमा व्यापार के नियमों को लेकर दोनों देशों के राजनयिकों और अधिकारियों में समन्वय के साथ चर्चा चल रही है। मामले में कंसाइनमेंट की ट्रांजेक्शन वैल्यू को बढ़ाकर सीमा व्यापार नियम में छूट दी गई।

मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी माह चीन के दौरे पर जा सकते हैं। दूसरी ओर प्रधानमंत्री का मंगोलिया, दक्षिण कोरिया और अन्य देशों की यात्रा पर जाने का कार्यक्रम भी तय किया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार डायरेक्टोरेट जनरल आॅफ फाॅरेन ट्रेड द्वारा इस बात को लेकर कहा गया कि नाथुला दर्रे से व्यापार किए जाने पर हर कंसाईटमेंट की कीमत को करीब 1 लाख से बढ़ाकर 2 लाख कर दिया गया है।

यही नहीं गुजी और नामया शिपकिला मार्ग से किए जाने वाले व्यापार हेतु सीआईएफ वैल्यू हर कंसाईटमेंअ के लिए 25000 रूपए से बढ़ाकर 100000 रूपए कर दी गई है। इन वस्तुओं का होता है व्यापार चीन और भारत की सीमा से व्यापारी कार्पेट, रेडीमेड गारमेंट, कंबल, जूते, जैकेट और रजाई का आयात करते हैं तो दूसरी ओर वनस्पति तेल, चांवल, प्रोसेस्ड फूड, कैन्ड फूड, टेक्सआईल और काॅपर सामग्रियों का निर्यात किया जाता है। चीन और भारत के बीच जिस तरह से व्यापार घाटा बढ़ रहा है उसे लेकर भारत ने गंभीरता दिखाई है। हालांकि चीन के लिए भारत आज भी एक बहुत बड़ा और सुलभ बाजार बना हुआ है।