पाकिस्तान का सबसे ज्यादा अत्याचार बंगाली हिंदुओं ने सहा

Jan 13 2016 11:42 AM
पाकिस्तान का सबसे ज्यादा अत्याचार बंगाली हिंदुओं ने सहा

अगरतल्ला : कई विवादों और विरोध के बाद पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली ने अपना परफॉर्मेंस कोलकाता में दिया। गुलाम अली के शो पर त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय ने एक विवादास्पद बयान दे दिया है। उन्होने सोशल मीडिया के जरिए कहा है कि इस धरती पर पाकिस्तानियों के जुल्म का यदि कोई सबसे ज्यादा शिकार हुआ है, तो वो है बंगाली हिंदू।

बंगाली भाषा के जाने-माने विद्वान हरप्रसाद शास्त्री के हवाले से रॉय ने कहा कि बंगाली ये बातें भूल गए। इसके बाद रॉय ने दूसरा ट्वीट करते हुए लिखा कि आशूगंज, जो कि अब बांग्लादेश का हिस्सा है के मेघना ब्रिज से 12 फरवरी 1950 को गुजरने वाली सभी ट्रेनों को रोका गया था। इस ट्रेन में सवार हिंदुओं को चुनचुन कर मारा गया था और उनके शवों को नदी में फेंक दिया गया था।

रॉय द्वारा यह पहली बार नही है जब विवादित बयान दिया गया है। इससे पहले भी वो कई बार विवादित बयान दे चुके है। हाल ही में उन्होने 1993 मुंबई बम ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन की फांसी पर तथा बांग्लादेश से भारत आने वाले अवैध अप्रवासियों को लेकर बयान दिया था।