केरिबियाई क्षेत्र के साथ भारत के रिश्ते एतिहासिक और सामाजिक तौर पर जुड़े हैं -सुषमा

By Harish Parmar
Oct 01 2015 10:08 PM
केरिबियाई क्षेत्र के साथ भारत के रिश्ते एतिहासिक और सामाजिक तौर पर जुड़े हैं -सुषमा

संयुक्त राष्ट्र : सुषमा स्वराज जो की भारत की विदेश मंत्री है उन्होंने दोहराया है की हमने संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरान अलग से भारत-केरिबियाई समुदाय के देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक का आयोजन किया व विकास स्वरूप जो की विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता है. उन्होंने ट्वीट में कहा की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा, ‘केरिबियाई क्षेत्र के साथ भारत के रिश्ते एतिहासिक और सामाजिक तौर पर जुड़े हैं। आर्थिक विकास और गरीबी उन्मूलन के क्षेत्र से जुड़ी उनकी और हमारी चिंतायें भी साझा हैं।’

सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र सुधार प्रक्रिया को भी सराहा है उन्होंने केरिबियाई देशों में क्षमता निर्माण, सूचना प्रौद्योगिकी, कृषि, औषधि, आदि क्षेत्रो में सहयोग की भी पेशकश की. तथा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भारत-लैटिन अमेरिकी और केरिबियाई देशों के समुदायों की बैठक में भी सम्मिलित हुई. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा की इन देशों के साथ हमारा द्विपक्षीय व्यापार 46 अरब डालर का है. कैरेबियाई व भारत के बीच में वैश्विक आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार के मुद्दे पर गहन चिंतन हुआ. सीरिया के उप-प्रधानमंखी और विदेश मंत्री वालिद अल्मोलेम से भी सुषमा स्वराज ने प्रमुख रूप से चर्चा की.