रोहित-कोहली और बुमराह के 'आराम' से गावस्कर नाराज़, बोले- इतने ब्रेक की जरुरत क्या ?

नई दिल्ली: बीते कुछ वर्षों में भारतीय क्रिकेट में एक ट्रेंड सा बन गया है कि सीनियर खिलाड़ियों को वर्कलोड मैनेजमेंट के नाम पर बहुत रेस्ट दिया जाने लगा है। इसमें कप्तान रोहित शर्मा, विराट कोहली, केएल राहुल और जसप्रीत बुमराह जैसे सीनियर खिलाड़ियों के नाम शामिल हैं। वहीं, टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर, इस बात से कुछ खफा नज़र आ रहे हैं और उनका मानना है कि अगले साल भारत में होने वाले ICC वर्ल्ड कप तक किसी भी खिलाड़ी को रेस्ट नहीं दिया जाना चाहिए।

बता दें कि, ऑस्ट्रेलिया में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप 2022 के फ़ौरन बाद टीम इंडिया को न्यूजीलैंड में तीन-तीन मैचों की टी20 और ODI  सीरीज खेलनी थी, जिसके लिए रोहित, विराट और केएल राहुल को आराम दे दिया गया। जिसके बाद T20 टीम की बागडौर हार्दिक पांड्या ने संभाली, जबकि ODI टीम की कप्तानी शिखर धवन कर रहे हैं। अगला विश्व कप भारत की मेजबानी में खेला जाना है और गावस्कर का मानना है कि टीम इंडिया में अधिक परिवर्तन टीम के लिए अच्छे नहीं रहेंगे। गावस्कर ने आगे कहा कि, 'वर्ल्ड कप 2023 में एक साल से भी कम का वक़्त बचा है, ऐसे में आवश्यक है कि खिलाड़ी साथ में अधिक से अधिक बल्लेबाजी करें। इससे उनके बीच में बेहतर अंडरस्टैंडिंग होगी।' 

गावस्कर ने आगे कहा कि, 'लिमिटेड ओवर में बल्लेबाजों के बीच साझेदारी के लिए आवश्यक होता है कि उनके बीच अच्छी अंडरस्टैंडिंग हो। यह तभी हो पाएगा, जब वह निरंतर साथ में क्रिकेट खेलेंगे। मैं ब्रेक लेने में यकीन नहीं रखता।  मैं अपनी टीम को और अपने खिलाड़ियों को समझना चाहता हूं और फिर उसके हिसाब से टीम पर नियंत्रण करना चाहता हूं। आपको इतने ब्रेक की क्या आवश्यकता है?'

मौजूदा वक़्त के इन बल्लेबाज़ों को गेंदबाज़ी करना चाहते हैं सक़लैन मुश्ताक, खुद बताए नाम

क्या न्यूज़ीलैंड से खाली हाथ ही लौटेगी शिखर धवन की टीम ? तीसरे ODI पर भी मंडराए 'बादल'

इसका कोई सेन्स बनता है क्या ? टीम इंडिया के सिलेक्शन पर पूर्व क्रिकेटर ने उठाए सवाल

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -