लोकसभा स्पीकर ने भेजा नई संसद भवन का प्रस्ताव
लोकसभा स्पीकर ने भेजा नई संसद भवन का प्रस्ताव
Share:

नई दिल्ली: जिस तरह बढ़ती उम्र चेहरे पर दिखने लगती है, वैसे ही देश की संसद भी अब बूढ़ी हो चली है और यह उसके भी चेहरे पर दिखने लगा है। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने संसद भवन के लिए एक नई इमारत बनाने का प्रस्ताव रखा है। महाजन का कहना है कि संसद भवन 88 साल पुरानी है और उसकी उम्र बढ़ गई है, जिसका असर भी दिखने लगा है। महाजन ने शहरी विकास मंत्री वैंकेया नायडू को पत्र लिखकर नई संसद के निर्माण कार्य को शुरु करने के लिए विचार करने को कहा है।

इसके लिए महाजन ने दो वैकल्पिक स्थान भी सुझाया है- एक संसद परिसर में तो दूसरा राजपथ पर, जहां रक्षा मंत्रालय और दिल्ली पुलिस के कुछ बैरक है। इस प्रस्ताव के बाद सूत्रों का कहना है कि शहरी विकास मंत्रालय इस पर फॉलो अप के तौर पर कैबिनेट के लिए नोट तैयार करेगा, जहां इस पर चर्चा भी हो सकती है।

अध्यक्ष ने कहा कि मौजूदा संसद भवन को 1927 में सेवा के लिए शुरु किया गया था। उस दौर में मीडिया, कर्मचारी, सुरक्षाकर्मी, संसद के कामकाज को देखने आने वालों की संख्या सीमित थी। अब इसमें कई गुना इजाफा हुआ है। गतिविधियां और स्टाफ बढ़ाने के लिए संसद भवन की इमारत कम पड़ रही है।

लोकसभा स्पीकर ने कहा कि संविधान के अनुच्छेद-81 के क्लॉज(3) के तहत 2026 तक लोकसभा सदस्यों की संख्या बढ़ेगी। 2021 की जनगणना के आधार पर 2026 में लोकसभा में प्रतिनिधियों की संख्या भी तय होगी। फिलहाल 550 सदस्य ही बैठ सकते है। सेंट्रल हॉल में सीटिंग कैपेसिटी 398 है।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -