स्पाइस जेट का बंपर ऑफर, यात्रा के दौरान कम सामान तो मिलेगा 999 रुपए का टिकट

Apr 27 2015 12:13 AM
स्पाइस जेट का बंपर ऑफर, यात्रा के दौरान कम सामान तो मिलेगा 999 रुपए का टिकट

नई दिल्ली : भारतीय विमान कंपनी स्पाइसजेट अपने ग्राहकों के लिए एक अनोखा ऑफर लेकर आई है। इस ऑफर में यदि आप यात्रा के दौरान अपना सामान काम ले जाते है तो आपको स्पाइसजेट की और से आपकी टिकिट में बंपर छूट मिल सकती है। इसी के साथ स्पाइसजेट ऐसी पहली भारतीय कंपनी बन गई है जो यात्रियों को अपने साथ कम सामान ले जाने पर टिकट चार्ज में छूट देगी।

इसके साथ ही भारतीय एयरलाइंस ने भी दुनिया की अन्य किफायती एयरलाइंस के टिकट फेयर को कम करने के तरीकों को अपनाना शुरु कर दिया है। इस नियम के तहत ज्यादा सामान ले जाने वाले को अतिरिक्त शुल्क और कम सामान ले जाने वाले को कम चार्ज देना होगा। स्पाइस जेट ने सिर्फ एक केबिन बैगेज ले जाने वाले लोगों के लिए सीमित अवधि का 999 रुपये का ऑफर निकाला है।

स्पाइसजेट की सभी घरेलू उड़ानों पर यह ऑफर लागू होगा। लेकिन, छूट की इस स्कीम के तहत थोड़ा सा भी सामान ज्यादा होने पर 750 रुपये का अलग से भुगतान करना होगा। स्पाइसजेट के एक प्रवक्ता ने संवाददाताओं को बताया कि एयरलाइन को डीजीसीए ने "कम सामान के साथ यात्रा करें, ज्यादा पैसा बचाएं" स्कीम लॉन्च करने की अनुमति दे दी है। यह स्कीम 1.5 लाख सीटों और अब से 29 अप्रैल के बीच बुकिंग के लिए मान्य है।

गौर हो कि पिछले साल जब किफायती एयरलाइन एयर एशिया ने डीजीसीए से अतिरिक्त सामान के लिए चार्ज वसूलने की अनुमति मांगी तो उस समय उसे इस बात की अनुमति नहीं प्रदान की गई थी। डीजीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने उस समय कहा था कि सर्विसेज में आंशिक रूप से चार्ज अलग वसूलने की अनुमति है और एयर एशिया सभी अतिरिक्त सामान के लिए अलग से चार्ज नहीं वसूल सकता है।

हालांकि एयर एशिया इंडिया के एक अधिकारी ने पिछले सप्ताह संकेत दिया था कि डीजीसीए के अध्यक्ष एम.सत्यावती ने सर्विसेज के अलग-अलग चार्ज वसूलने को उदार बना दिया है और एयरलाइन ऐसी स्कीम ऑफर करने वाली है जहां साथ ले जाने वाले हर सामान के लिए अलग से पैसा देना होगा। लेकिन, तब यह स्पष्ट नहीं था कि डीजीसीए का सर्कुलर सभी एयरलाइनों के लिए है।

यहां दो बातें ध्यान में रखनी हैं कि एयर एशिया ने बहुत ही कम कीमत पर अगले महीने से दिल्ली से बेंगलुरु, गोवा और गुवाहाटी तक उड़ानें लॉन्च करने की योजना की घोषणा की है। ऐसे में स्पाइसजेट का ऑफर एयरएशिया इंडिया के यात्रियों में सेंध लगा सकता है। दूसरी बात यह है कि अन्य किफायती एयरलाइन कंपनियां जैसे गोएयर और इंडगो भी अगले कुछ घंटों में ऐसे ही ऑफर की घोषणा कर सकती हैं।

डीजीसीए ने अपने हालिया सर्कुलर में उल्लेख किया है कि यात्रियों के पास यह विकल्प होगा कि वे उन सेवाओं को चुनें जिसके लिए वो भुगतान करना चाहते हैं। जिन सर्विसेज को अलग-अलग किया जाना हैं उसमें सीट प्राथमिकता, खाना, साथ ले जाने वाला सामान, प्रीमियम लॉउन्ज, स्पोर्ट्स और म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स का परिवहन शामिल है। डीजीसीए के इस कदम के पीछे यह मकसद है कि यात्रियों को इन सभी सर्विसेज के लिए भुगतान करने को मजबूर न होना पड़े और इसके बदले वो उन सर्विसेज को चुन सकें जिसे वे वास्तव में चाहते हैं।